fbpx Press "Enter" to skip to content

तेनुघाट अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अनंत मोहन सिन्हा का निधन

बेरमो /तेनुघाट कोर्टः तेनुघाट अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सह तेनुघाट चित्रगुप्त महा

परिवार के संरक्षक कुमार अनंत मोहन सिन्हा उर्फ अंतु बाबू की आकस्मिक निधन पर पूरे

तेनुघाट के साथ-साथ बेरमो अनुमंडल और आसपास के क्षेत्रों में शोक की लहर व्याप्त है।

बताते चलें कि लगभग 76 वर्षीय कुमार अनंत मोहन सिन्हा पेशे से अधिवक्ता थे, मगर

इसके साथ ही वह सामाजिक कार्यों में लगे हुए थे। हमेशा लोगों की मदद किया करते थे।

जिस कारण पूरे क्षेत्र में लोगों को उनकी आत्मिक निधन सुनने के बाद शोक में डूबे नजर

आ रहे हैं। कोई भी व्यक्ति उनके पास अपनी मजबूरी सुनाता था तो वह हमेशा आर्थिक

और शारीरिक रूप से उसके मदद करने को तैयार रहते थे। उनके पास आने वाला व्यक्ति

कभी निराश होकर नहीं जाता था। वह एक कुशल एवं मिलनसार व्यक्ति थे। पिछले साल

भी कोरोना के समय आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को काफी सहायता की थी। उन्हें राशन

एवं नगद भी दिए थे। उनके आकस्मिक निधन पर केवल तेनुघाट अधिवक्ता संघ ही नहीं

बल्कि क्षेत्र के सभी लोगों शोक की लहर व्याप्त है। वह 1972 से वकालत की शुरुआत

गिरिडीह व्यवहार न्यायालय से अपने पिता स्व गोविंद प्रसाद की देखरेख में शुरू किए थे।

उसके बाद 1981 में जब बेरमो अनुमंडल तेनुघाट में न्यायालय आया, उस समय से वह

तेनुघाट में वकालत कर रहे थे। तेनुघाट अधिवक्ता संघ के महासचिव के पद पर भी

सुशोभित हुए थे। उसके बाद लगभग 8 बार अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष पद पर भी

सुशोभित रहे हैं।

तेनुघाट अधिवक्ता संघ में आठ बार अध्यक्ष रहे

जिसमें एक बार वह निर्विरोध अध्यक्ष पद के लिए भी चयनित हुए थे। सामाजिक

प्रतिनिधि से जुड़े रहने के कारण 1996 में तेनुघाट नगर विकास समिति के सचिव चुने

गए। इनके देखरेख में तेनुघाट का दुकान बना इसी। क्रम में उनकी धर्मपत्नी रेखा सिन्हा

दो बार मुखिया पद पर भी सुशोभित हुई और वर्तमान में भी वही मुखिया हैं। स्वर्गीय

सिन्हा के देखरेख में तेनुघाट पंचायत का विकास में भी काफी सहयोग हुआ। तेनुघाट के

जितने भी गैर सरकारी संस्था बना उसमें वह किसी ना किसी पद पर सुशोभित रहे हैं।

डीएवी विद्यालय तेनुघाट की स्थापना में भी उनका काफी सहयोग रहा है। तेनुघाट

चित्रगुप्त महापरिवार एवं बोकारो जिला चित्रगुप्त महापरिवार में भी उनका स्थान रहा है।

अपने जीवन काल में उनका कई राजनीतिक दलों के संबंध रहा है। जिसमें बेरमो के पूर्व

विधायक सह मंत्री स्वर्गीय राजेंद्र प्रसाद सिंह के विधि सलाहकार थे। डुमरी विधायक सह

मंत्री जगन्नाथ महतो के भी विधि सलाहकार के रूप में कार्य किए थे। झारखंड बार

काउंसिल के निर्देश पर 19 अप्रैल से न्यायिक कार्यों से अलग रहने के काउंसिल के निर्णय

को अक्षरसह से पालन करने के लिए वह व्यक्तिगत रूप से तेनुघाट के अधिवक्ताओं से

संपर्क किया और इनकी जानकारी देते हुए वह उन्हें बार काउंसिल के निर्देश का पालन

करने को बताया। बुधवार की सुबह अचानक से उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी।

उसके बाद उन्हें इलाज के लिए दुग्धा अस्पताल ले जाया गया। जहां से उन्हें रांची

गांधीनगर अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां इलाज के बाद गुरुवार की सुबह तक वह

काफी स्वस्थ नजर आ रहे थे। वह अपने परिवार वालों से बात भी की है। मगर उसके बाद

अचानक उनकी मृत्यु हो गई।

सुबह तक स्वस्थ थे लेकिन अचानक तबियत बिगड़ गयी

उनके साथ अधिवक्ता समीर कुमार सामंता, मोलेश्वर प्रसाद, नागेश्वर दसौंधी, हरिशंकर

प्रसाद, उज्जवल कुमार मुखर्जी, पवन कुमार, दिलीप कुमार सिन्हा, जगदीश मिस्त्री, वीरेंद्र

प्रसाद, अर्जुन सिंह, रमेंद्र कुमार सिन्हा, रतन कुमार सिन्हा, वेंकट हरी विश्वनाथन, अर्जुन

सिंह, शैलेश कुमार सिन्हा, प्रताप कुमार आदि ने भी उनके छत्रछाया में कनीय अधिवक्ता

के रूप में अपना अपना पेशा प्रारंभ किया और आज अपना पहचान बनाए हुए हैं। उनके

निधन पर इन सभी के साथ साथ कामेश्वर मिश्रा, सत्यनारायण डे, बासु कुमार डे, अरुण

कुमार सिन्हा, राम विश्वास महथा, शिव पार्वती सहाय, महादेव राम, राम बल्लभ महतो,

वकील प्रसाद महतो, वीरेंद्र कुमार सिन्हा, जनार्दन प्रसाद, सुरेश तिवारी, डीएन तिवारी,

अभिषेक मिश्रा, सुभाष कटरियार, राजीव तिवारी, बैजनाथ शर्मा, जीवन सागर, राजेश

सिंह, तेजू करमाली, सुशील सिंह, चेतन आनंद, मोहम्मद मोबीन, सम्सजहाँ अंसारी,

रियाज अंसारी, विजय कुमार बबन, बद्रीनारायण पोद्दार, विश्वनाथ प्रसाद सहित

अधिवक्ता संघ के सदस्यों ने शोक व्यक्त किया। साथ ही चित्रगुप्त महापरिवार तेनुघाट

के मोहन प्रसाद श्रीवास्तव, सुरेश श्रीवास्तव, अजीत कुमार लाल, कुंदन कुमार, रतन

कुमार सिन्हा, मुन्ना श्रीवास्तव, बिजय अम्बष्ठ, अजय अम्बष्ट, छोटू कुमार, आलोक

रंजन, सुनील कुमार, योगेश नन्दन प्रसाद आदि ने भी शोक व्यक्त किया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बोकारोMore posts in बोकारो »
More from लाइफ स्टाइलMore posts in लाइफ स्टाइल »

One Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: