15 अगस्त 2022 को देश में सुनाई देगी बुलेट ट्रेन की पहली सीटी, पूरा होगा बरसों का सपना

सच होने जा रहा बुलेट ट्रेन का सपना

0 639

बुलेट ट्रेन

बहुत जल्दी बुलेट ट्रेन का सपना सच होने जा रहा
है। सरकार का कहना है कि देश जब स्वतंत्रता की
75वीं वर्षगांठ मना रहा होगा, देश की पहली बुलेट
ट्रेन उसकी खुशी में चार चांद लगा देगा। रेल मंत्री
पीयूष गोयल ने बताया कि अहमदाबाद और मुंबई के बीच 508 किमी लंबे रूट पर बुलेट ट्रेन चलाने के लिए 14 सितंबर को प्रॉजेक्ट का शिलान्यास किया जाएगा। उसी दिन बड़ोदा में इस प्रॉजेक्ट के लिए ट्रेनिंग सेंटर का भी निर्माण शुरू किया जाएगा।
जरा एक नजर डालते हैं बुलेट ट्रेन प्रॉजेक्ट पर
अहमदाबाद मुंबई बुलेट ट्रेन
अधिकतम डिजाइन स्पीड- 350 किमी प्रति घंटा
अधिकतम ऑपरेटिव स्पीड- 320 किमी प्रति घंटा
Read Also 
कब तक पूरा होगा प्रोजेक्ट
5 साल में बनकर होगा तैयार
एक लाख दस हजार करोड़ रुपये होंगे खर्च
हर साल बीस हजार करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान
जापान 88 हजार करोड़ रुपये 0.1 फीसदी ब्याज दर से देगा कर्ज
क्षमता
10 कार इंजन बुलेट ट्रेन में 750 यात्री एकसाथ यात्रा कर सकेंगे
हर दिन 36 हजार लोग यात्रा कर सकेंगे
2035 तक क्षमता बढ़कर एक लाख 86 हजार यात्रियों की हो जाएगी
रुट
साबरमती रेलवे सेटेशन से बांद्रा कुर्ला के बीच 508 किमी
चार स्टेशनों पर रुकते हुए 2 घंटा 7 मिनट में दूरी तय
रोजगार
16 हजार अप्रत्यक्ष रोजगार की सोभावना
परिचालन शुरु होते ही हाई स्पीड लाईन के संचालन और रखरखाव के लिए 4 हजार कर्मियों की जरुरत
20 हजार कंस्ट्रक्शन वर्कर्स की जरुरत

रेलमंत्री का दावा है कि बुलेट ट्रेन ही नहीं, उसकी तकनीक भी भारत को मिलेगी इसलिए आने वाले वक्त में भारत ज्यादा बुलेट ट्रेनों का निर्माण करेगा और सस्ती दर पर बनी इन ट्रेनों को दूसरे देशों को निर्यात कर सकेगा

अन्य रूटों पर भी काम
रेल मंत्री ने कहा कि अन्य रूटों पर बुलेट ट्रेन चलाने के लिए अहमदाबाद-मुंबई रूट पर काम पूरा होने का इंतजार नहीं किया जाएगा बल्कि पहले ही काम शुरू कर दिया जाएगा। अन्य रूटों में दिल्ली कोलकाता, दिल्ली मुंबई, दिल्ली चंडीगढ़, मुंबई चेन्नै, मुंबई नागपुर और दिल्ली नागपुर हैं।

 

You might also like More from author

Comments

Loading...