fbpx Press "Enter" to skip to content

ताऊ के आने का संकेत हुआ केरल में घर गिरे, देखें वीडियो




  • भीषण तूफान में तब्दील हो सकता है यह चक्रवात

  • उत्तर पश्चिम की तरफ से आगे बढ़ने लगा है

  • आगे बढ़ते हुए इसकी गति भी बढ़ती जाएगी

राष्ट्रीय खबर

तिरुअनंतपुरमः ताऊ यानी चक्रवाती तूफान जिसे अंग्रेजी शब्दों में ताउकाटे भी कहा जा

रहा है, केरल के करीब पहुंच चुका है। इसके धीरे धीरे सक्रिय होकर जमीनी इलाकों के

करीब आने की वजह से यहां तेज बारिश और हवा का असर देखने को मिल रहा है। इस

दौरान तेज हवा की वजह से अनेक घर और कई सार्वजनिक संपत्तियो को भी नुकसान

पहुंचा है। समुद्र के पास रहने वाले अनेक इलाकों में जनजीवन बाधित हो गया है। केरल के

कासारागोड में एक दो मंजिला मकान भी समुद्री लहरों की वजह से धराशायी हो गयी।

कैसे गिर गया दो मंजिला मकान देखें वीडियो

सभी इलाकों में समुद्री लहरें काफी ऊंची और तेज हो चुकी हैं। जो दो मंजिला मकान गिरा,

वह पहले से ही वीरान था, इसलिए जान माल का नुकसान नहीं हुआ। लेकिन मकान की

हालत और समुद्री की लहरों को भांपते हुए स्थानीय लोग वहां पहुंच चुके थे। इसलिए

मकान गिरने का वीडियो भी सोशल मीडिया में तुरंत ही वायरल हो गया। केरल ने अपने

पांच जिलों के लिए तूफान के संबंध में रेड एलर्ट जारी कर दिया है। अगले चौबीस घंटों में

वहां भारी बारिश की भी चेतावनी जारी कर दी गयी है। तेज हवा की वजह से अनेक इलाकों

में बड़े बड़े पेड़ पहले ही उखड़ गये हैं। अनेक इलाकों में बिजली भी गुल हो गयी है। इसका

प्रभाव सबसे अधिक थिस्सूर, मल्लपुरम और कन्नूर में देखा जा रहा है।

ताऊ आगे बढ़ता हुआ गुजरात के पोरबंदर के पास टकरायेगा

ताऊ तूफान के बारे में भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने चेतावनी दी है कि यह उत्तर

पश्चिम की तरफ आगे बढ़ता हुआ तेज होता चला जाएगा। उसके गुजरात के पोरबंदर और

नालिया के पास एक भीषण चक्रवाती तूफान के तौर पर 18 मई को पहुंचने की आशंका है।

मौसम वैज्ञानिकों का मानना है कि अगले 12 से 15 घंटे में तूफान के तेवर को बारे में और

जानकारी मिल पायेगी, जो धीरे धीरे तट की तरफ बढ़ते हुए तेज होता चला जा रहा है।

वैज्ञानिक मानते हैं कि मौसम और अरब महासागर की परिस्थितियां भी इसे और ताकत

प्रदान कर रही है। इसी वजह से वह धीरे धीरे और शक्तिशाली होता चला जा रहा है।

वैज्ञानिकों का यह भी मानना है कि बंगाल की खाड़ी के मुकाबले अरब महासागर का

तापमान अधिक होने की वजह से भी इस इलाके में बार बार चक्रवाती तूफान जैसी

परिस्थितियां पैदा हो रही हैं। इस कड़ी में ताऊ तूफान सबसे ताजा उदाहरण है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from केरलMore posts in केरल »
More from गुजरातMore posts in गुजरात »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from मौसमMore posts in मौसम »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: