fbpx Press "Enter" to skip to content

Posts tagged as “संपादकीय”

मजदूरों को फुटबॉल मत समझिये हुजूर,धक्के खाने के लिए मजबूर नहीं होता

मजदूरों के नाम पर राजनीति साधने का जो गंदा खेल हो रहा है, वह आम आदमी अच्छी तरह समझ रहा…

पूरी दुनिया में कोरोना संक्रमितों का आकड़ा 50 लाख के करीब

जिनेवा पूरी दुनिया में इससे संक्रमितों की संख्या 50 लाख के करीब पहुंच चुकी है और 3.28 लाख से अधिक…

सरकारों की जेब खाली होने की सार्वजनिक घोषणा तो जनता की सुध आयी

सरकारों की जेब खाली होने की सार्वजनिक घोषणा का दौर प्रारंभ हो चुका है। सरकारों ने अपनी तरफ से छूट…

कभी खुद भी पैदल चलकर देखिये माई लार्ड,मर्जी और मजबूरी का फर्क समझ में आ जाता

कभी खुद पैदल चलना पड़ता वह भी इस हालत में तो शायद न्याय की कुर्सी को मर्जी और मजबूरी का…

आर्थिक पैकेज के बारे में वित्त मंत्री ने जो जानकारी दी अच्छा है,जरूरतमंदों तक पहुंचे

आर्थिक पैकेज के बारे में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जो कुछ जानकारी दी है, उससे यह प्रस्ताव वाकई…

देश की आर्थिक गतिविधियां तेज कैसे होंगी, अब इस पर बात हो

 देश की  आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह ठप पड़ी हुई हैं। जो चंद कारोबार चल रहे हैं उससे देश की अर्थनीति…

ऐ दिल है मुश्किल जीना यहां अमेरिका से अहमदाबाद एक जैसा हाल है

ऐ दिल है मुश्किल जीना यहां, यह बात अगर अमेरिका में बसे भारतीयों की जुबान से बाहर आये तो समझ…

धीरे धीरे सब ठीक हो जाएगा सब्र करो फल मीठा होता है

धीरे धीरे कोरोना के चले जाने का पड़ाव अब भी दूर है। मैं अपनी बात कर रहा हूं क्योंकि मैं…

कर्जमाफी का सवाल तो जनता के लिए भी जरूरी

कर्जमाफी का सवाल कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ फिर उठाया है। दरअसल इस कर्जमाफी पर पहले भी संसद में…

error: Content is protected !!
Open chat