fbpx Press "Enter" to skip to content

आत्महत्या की बढ़ती घटनाओं से खुद चिंतित हैं विधायक अजीत शर्मा

  • पार्टी की ही एक पदाधिकारी के पति की आत्महत्या से विचलित

  • कहा कि गरीबों को राशन दिलाने के लिए कार्ड बनाये सरकार

  • तीन महीने के बाद भी लाखों का नहीं बन पाया है राशनकार्ड

  • श्री मोदी ने कहा पर जिनके कार्ड नहीं बने उनका क्या होगा

दीपक नौरंगी

भागलपुरः आत्महत्या की बढ़ती घटनाओं ने खुद भागलपुर के विधायक अजीत शर्मा को

अंदर से झकझोर कर रख दिया है। यूं भी वह काफी संवेदनशील व्यक्ति हैं और लगातार

इस किस्म की घटनाओं से वह दुखी है। आज भी भागलपुर कांग्रेस की ही एक महिला

पदाधिकारी के पति द्वारा जान देने की घटना से वह व्यथित नजर आये।

वीडियो में देखिये विधायक अजीत शर्मा ने क्या कहा

उन्होंने बताया कि घटना की सूचना पाकर वह खुद वहां गये थे। वैसे भी उक्त महिला

पदाधिकारी के साथ उनका बीस पच्चीस वर्षों का साथ है। उनके पति से भी अच्छी जान

पहचान थी। आत्महत्या करने वाले व्यक्ति की तारीफ करते हुए श्री शर्मा ने कहा कि एक

हंसमुख और जिंदादिल इंसान कैसे ऐसा कर सकता है, यह सोच कर दिल डूबा जा रहा है।

इस क्रम में उन्होंने तमाम लोगों के अपने आप पर भरोसा रखने और अपनी परेशानियों

को अपने परिचितों के बीच बांटने की भी अपील की। उनकी समझ में कई बार परेशानियों

का जिक्र दूसरों से करने से कोई अप्रत्याशित समाधान भी निकल आता है। यदि समाधान

नहीं भी निकला तो कमसे कम दिल का बोझ तो कम होता है। इसलिए लोगों को इस

कठिन घड़ी में एक दूसरे का साथ देते हुए पूरे आत्मविश्वास के साथ इस चुनौती का

सामना करना चाहिए।

भागलपुर विधायक ने आत्महत्या की घटनाओं के फिर से सरकार की विफलताओं से भी

जोड़ा। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन लगने के समय से ही वह यह मांग करते आ रहे हैं कि

कोई वैकल्पिक उपाय कर हर व्यक्ति को राशन उपलब्ध कराने की कार्रवाई होनी चाहिए।

श्री शर्मा की मांग पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसके आदेश भी दिये थे।

लेकिन श्री शर्मा की नाराजगी इस बात को लेकर भी है कि मुख्यमंत्री के आदेश के बाद भी

वास्तविकता के धरातल पर कोई काम नहीं हो पाया। यानी जरूरतमंदों में से अनेक लोगों

का राशन कार्ड अब भी नहीं बन पाया है।

आत्महत्या की घटनाओं पर श्री मोदी के भाषण की चर्चा की

आत्महत्या की घटनाओं के संदर्भ में चर्चा के दौरान ही श्री शर्मा ने आज के प्रधानमंत्री के

भाषण का भी उल्लेख किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले तीन माह तक गरीबों को

मुफ्त में राशन देने का एलान किया है। प्रारंभ से ही सरकार चाहे वह केंद्र की हो अथवा

राज्य की गरीबों को राशन दे रही है। लेकिन जिनके पास राशन कार्ड ही नहीं हैं, वैसे लोगों

की संख्या भागलपुर में ही लाखों में है। ऐसे में सरकार का एलान से ऐसे गरीबों को कोई

लाभ नहीं मिल पा रहा है। भागलपुर के विधायक ने कहा कि सरकारों को भी और उनके

मुखिया को यह हमेशा याद रखना चाहिए कि इन गरीबों के वोट से ही वे सत्ता पर काबिज

हैं। इसलिए कोरोना संकट के दौरान के लॉक डाउन में जो परिस्थितियां उत्पन्न हुई हैं,

उससे राहत दिलाने के लिए पैकेज दिया जाना चाहिए। श्री शर्मा ने लोगों के भरोसा बनाये

रखने की अपील के साथ साथ फिर से मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री से भी अपील की कि वे

जिनके पास राशन कार्ड ही नहीं हैं, उन्हें भी राशन देने की कोई व्यवस्था करें


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!