fbpx Press "Enter" to skip to content

राज्य सरकार का ब्यान महिला उत्पीड़न को बढ़ावा दे रहा है : प्रदीप सिन्हा

  • 10 हजार की 22 नौकरी, लाखों का विज्ञापन दुर्भाग्यजनक: प्रदीप सिन्हा

राष्ट्रीय खबर

रांचीः राज्य सरकार द्वारा 22 लड़कियों को 10 हजार 6 सौ की नौकरी पर लाखों के

विज्ञापन दिए जाने को लेकर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा ने कहा

कि कांग्रेस झामुमो की सरकार बेरोजगारों के सपने पर तमाचा जड़ने का कार्य किया है। श्री

सिन्हा आज प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे।उन्होंने कहा कि सरकार

बनते ही पहले साल 5 लाख युवाओं को नौकरी देने के वादे को तार तार करने का काम

किया है। 5 लाख के बजाए सिर्फ 22 लोगों को नौकरी देकर लाखों का विज्ञापन बेरोजगार

युवक युवतियों का अपमान है। विज्ञापन का पैसा नौकरी करने वालों को मिलता तो सैलरी

में कुछ बढ़ोतरी हो जाती। 22 लोगों को 10 हजार की नौकरी बेरोजगारों के साथ क्रूर मजाक

है। बेरोजगारों को 7 हजार की भत्ता देने का वादा करने वाली हेमन्त सरकार 10 हजार की

22 नौकरी देकर ढिंढोरा पीट रही है। कहा कि आज राज्य में रघुवर सरकार में लगे दो

कपड़ा गारमेंट निर्माण उद्योग बंद हो चुके जिससे हजारों लोग बेरोजगार हो चुके।राज्य

सरकार को इसकी कोई चिंता नही। श्री सिन्हा ने कहा कि हजारों शिक्षकों की नौकरी

सरकार की गलती के कारण अधर में लटक गई है।हताश निराश युवा बेरोजगार

आत्महत्या करने को मजबूर हैं।। कहा कि यह सरकार नौकरी देने के बजाए नौकरियां लेने

वाली सरकार है। दिशाहीन सरकार की कार्यशैली राज्य की जनता देख रही है।

राज्य सरकार के साथ साथ नेताओं के बयान भी गलत

साथ ही उन्होंने राज्य की बहू बेटियों के साथ बढ़ते दुष्कर्म पर झामुमो कांग्रेस के नेताओं

के बयान पर बड़ा सवाल खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि राज्य की बेटियां पुलिस से न्याय

के लिए गुहार लगाते लगाते मौत को गले लगा ले रही है और झामुमो के नेता लड़कियों को

इसके लिए जिम्मेवार ठहराते हैं। कांग्रेस के कई नेता जिनमें कमलनाथ, अशोक गहलोत

का बयान काफी शर्मनाक है। इससे झामुमो कांग्रेस के नेताओं की मानशिकता स्पष्ट

झलकती है। राजधानी रांची में दुष्कर्म होना, हजरीबाग कि बेटी न्याय नहीं मिलने पर

फांसी के फंदे में झूल गयी किंतु बेशर्म सरकार को फर्क नहीं पड़ा। पुलिस के मुखिया कहते

हैं राज्य में सब कुछ ठीक है। इधर पुलिस वाले ही बेटियों की इज्जत लूटने में लगे हैं।

महामहिम राज्यपाल को खुद संज्ञान ले रही, हाईकोर्ट ने बढ़ते अपराध, दुष्कर्म पर सवाल

खड़े कर रही, मुख्यमंत्री के विधान सभा क्षेत्र में रोज बेटियों के साथ अन्याय हो रहा और

सरकार कह रही सब कुछ ठीक है। प्रत्येक दिन 5 से ज्यादा लोगों की हत्या, लूट डकैती,

बढ़ता अपराध और उग्रवाद दुर्भाग्यजनक है। आज की प्रेसवार्ता में प्रदेश मंत्री सुश्री काजल

प्रधान एवम प्रदेश मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक भी उपस्थित थे


 


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: