Press "Enter" to skip to content

दिल्ली दौरे से लौटे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव

  • कहा मंत्रिमंडल मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार

रांचीः दिल्ली दौरे से लौटे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और राज्य के वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव

का एयरपोर्ट पर स्थानीय कांग्रेसी नेताओं ने स्वागत किया। रांची एयरपोर्ट पर प्रदेश

कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और डॉ राजेश गुप्ता छोटू

समेत अन्य पार्टी नेताओं ने उनका स्वागत किया। एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बातचीत में डॉ

रामेश्वर उरांव ने कहा कि मंत्रिमंडल का गठन और विभागों का बंटवारा मुख्यमंत्री का

विशेषाधिकार है। मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल की खबरों को लेकर पिछले चार-पांच

दिनों में जितना पतंग उड़ाया गया, उसका वास्तविकता और सच्चाई से कोई लेना-देना

नहीं था। उन्होंने बताया कि वे निजी कार्यां से दिल्ली गये थे और यह इत्तेफाक था कि

इसी दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी व्यक्तिगत कारणों से दिल्ली पहुंचे और काम खत्म

होने के बाद वापस लौट आये। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल

गठन का मसला मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार है और इस संबंध में वे ही निर्णय लेंगे,लेकिन

जहां तक पार्टी के दृष्टिकोण की बात है, तो वे यह कह सकते हैं कि 12 वां मंत्री कांग्रेस को

दिया जाना चाहिए लेकिन इसका फैसला मुख्यमंत्री को ही करना है। बोर्ड-निगम के बंटवारे

के संबंध में पूछे गये प्रश्न के उत्तर में डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि जब-जब इस दिशा में

कदम उठाये जाते है, तो कोरोना संक्रमण के फैलाव के कारण इसे टाल दिया जाता है,

स्थिति सामान्य होने पर इसकी प्रक्रिया भी पूरी कर ली जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना

संक्रमणकाल में सरकार की ओर से अच्छे काम किये गये। वे पहले व्यक्ति थे, जिन्हांने

जीवन के साथ जीविका को भी बचाने का पक्ष रखा था। अब धीरे-धीरे स्थिति सामान्य हो

रही है, जल्द ही सारी चीजें खुलेगी।

दिल्ली दौरे से लौटकर वहां की जानकारी साझा की

 पार्टी नेताओं से दिल्ली में मुलाकात के संबंध में डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि वे जब भी

दिल्ली जाते है, तो पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करते है। इस बार भी दिल्ली दौरे के

क्रम में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल समेत अन्य वरिष्ठ नेताओं से

मुलाकात हुई। उन्होंने बताया कि केसी वेणुगोपाल को कोरोना काल में टॉस्क फोर्स द्वारा

किये गये सेवा कार्यां के बारे में जानकारी दी गयी। इसके अलावा आउटरीच अभियान की

सफलता पर चर्चा हुई।उन्होंने उन्हें बताया कि आउटरीच अभियान की सफलता को लेकर

वे दिल्ली से लौटने के बाद जिलों में भ्रमण करेंगे और वरिष्ठ नेताओं तथा पदाधिकारियों

के साथ बैठक कर इसे सफल बनाने पर चर्चा करेंगे।

Spread the love
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version