fbpx Press "Enter" to skip to content

मोहर्रम पर दुआ करने की बात कही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने

रांचीः मोहर्रम पर अपने संदेश में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ. रामेश्वर उरांव ने कहा

कि हजरत इमाम हुसैन की शहादत, त्याग, बलिदान मानव जाति हेतु भाईचारगी का

संदेश देता है ,उनकी शहादत को मैं शत शत नमन करता हूँ। मोहर्रम के पावन पर्व के

महीने पर आइए आप और हम मिलकर इश्वर से दुआ करें कि कोरोना के इस संकट से हमें

जल्द छुटकारा मिले। डॉ रामेश्वर उराँव ने मुहर्रम के अवसर पर यह कहा कि मुसलमानों

के लिए यह महीना सबसे पवित्र माना जाता है।मुस्लिम समुदाय के लिए यह महीना बेहद

ही पाक होता है। इस्लामिक कैलेंडर का पहला महीना का 10वां दिन सबसे खास होता है,

जिसे रोज-ए-अशुरा कहते है। इस दिन को मुस्लिम समुदाय मोहम्मद हुसैन के नाती

हुसैन की शहादत के तौर पर मनाते हैं। डॉ. उरांव ने मुस्लिम समाज से सादगी के साथ घरों

में रहकर ही त्योहार मनाने का अनुरोध किया है और कोरोना महामारी से मुक्ति के लिए

दुआ करने की भी अपील की है। डॉ उराँव ने कहा

यूं ही नहीं जहां में चर्चा हुसैन का

कुछ देख के हुआ था जमाना हुसैन का

सर दे के जो जहां की हुकूमत खरीद ले

महंगा पड़ा यजीद को सौदा हुसैन का।।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि मुहर्रम इस्लामी वर्ष यानी

हिजरी वर्ष का पहला महीना है,जो काफी पवित्र माना गया है। आलोक दूबे ने कहा कि

अल्लाह के रसूल हजरत मोहम्मद ने इस माह को अल्लाह का महीना कहा है।

मोहर्रम पर आलोक दूबे ने कहा आज का दिन विश्व इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान रखता है

मुहर्रम के दिन ताजिया निकालने की भी परंपरा है, जिसमें कई झांकियां भी शामिल हुआ

करती है, लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना की वजह से उल्लासपूर्णक त्योहार मनाना

संभव नहीं होगा। श्री दुबे ने कर्बला के शहीदों और हजरत इमाम हुसैन के शहादत को सादर

नमन किया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव ने कहा कि

मुंहर्रम का आज का दिन सबसे अहम माना गया है, इस्लाम धर्म के नये साल की शुरुआत

इसी महीने से होती है। मुहर्रम को अधर्म पर धर्म की जीत का भी प्रतीक माना गया है।

उन्होंने कहा कि हजरत इमाम हुसैन की शहाद मानव जाति के लिए भाईचारगी का संदेश

देता है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता डॉ राजेश गुप्ता छोटू ने मुस्लिम धर्मावलंबियों को

पवित्र मोहर्रम पर हजरत हुसैन की शहादत एवं कर्बला के साथियों की कुर्एबानी की याद

दिलाता है,एवं साथ ही साथ इस्लामिक नए वर्ष का दिन है।डॉ गुप्ता ने कहा कि हजरत

मोहम्मद के प्यारे नवासे एवं कर्बला के शहीदों को हम शत शत नमन करते हैं और उनकी

कुर्बानी समाज के लिए सच्चाई के रास्ते पर चलने का संदेश देता है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from नेताMore posts in नेता »
More from रांचीMore posts in रांची »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!