fbpx Press "Enter" to skip to content

प्रदेश कांग्रेस ने मॉब लिचिंग पर रोक की मांग पर राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन




  • अठारह लोग मॉब लिचिंग में मारे गये, 25-25 लाख मुआवजा देने की मांग

रांची : प्रदेश कांग्रेस कमिटी का एक प्रतिनिधिमंडल मॉब लिचिंग की

घटना पर रोक लगाने की

मांग को लेकर कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम के

नेतृत्व में मंगलवार को राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से संध्या पांच बजे मुलाकात की

एवं ज्ञापन सौंपा। महामहिम का ध्यान आकृष्ट कराते हुए विधायक दल नेता ने

कहा कि सरायकेला-खरसांवा की घटना दिल दहलाने वाली है,

जहां एक तरफ मानवता शर्मसार हुई है। तो दूसरी तरफ मृतक की

मासूम पत्नी के समक्ष जीवन-यापन का बड़ा प्रश्न खड़ा है।

देश कांग्रेस कमिटी का प्रतिनिधिमण्डल ने मृतक तबरेज अंसारी की पत्नी को

पच्चीस लाख रूपया मुआवजा सहित नौकरी देने की मांग की है।

प्रतिनिधिमण्डल ने  सुप्रीम कोर्ट का हवाला देते हुए महामहिम से आग्रह किया कि

फस्ट टैज्क कोर्ट के माध्यम से जल्द से जल्द आरोपियों को

सख्त सजा सुनाई जाए। आरोपी किसी भी कीमत पर बख्शे नहीं जाने चाहिए।

प्रतिनिधिमंडल ने उदाहरण देते हुए कहा कि पिछले साढ़े चार वर्षों में

अठारह लोग मॉब लिचिंग में मारे गये हैं। आज भी उनका परिवार

आशा भरी निगाहों से सरकार की ओर देख रही है।

उन सभी मृतक के आश्रितों को भी पच्चीस-पच्चीस लाख रुपए

मुआवजा देने की मांग की है। प्रतिनिधिमंडल ने महामहिम से

अनुरोध किया कि भविष्य में ऐसी घटनाओं पर रोक लगनी चाहिए

और जवाबदेही सुनिश्चित की जानी चाहिए। महामहिम ने प्रतिनिधिमण्डल

की बातों को गंभीरता पूर्वक सुना और उचित कार्रवाई करने का

आश्वासन दिया है। प्रतिनिधिमण्डल में प्रदेश कांग्रेस कमिटी मीडिया के

प्रदेश प्रवक्ता शमशेर आलम, आलोक कुमार दूबे, राजीव रंजन प्रसाद,

लाल किशोर नाथ शाहदेव, डा. राजेश गुप्ता, डा. एम. तौसिफ,

शशिभूषण राय, जगदीश साहु, शहजादा अनवर मुख्य रूप से शामिल थे।

प्रदेश कांग्रेस के अलावा भी कई अन्य संगठनों ने भीड़ द्वारा इस तरीके से की

जाने वाली हत्याओं पर रोक लगाने की मांग करते हुए अलग अलग

प्रदर्शन किये हैं तथा सरकार को ज्ञापन भी सौंपा है। इस बीच

यह मामला अब देश की संसद में भी उठाया गया है।



Rashtriya Khabar


More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from रांचीMore posts in रांची »

One Comment

Leave a Reply

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com