Press "Enter" to skip to content

दक्षिण कोरिया ने जापान को विश्वसनीय सूची से बाहर किया







सोलः दक्षिण कोरिया ने जापान को विश्वसनीय निर्यात सहयोगी देशों की सूची से बाहर करने का निर्णय लिया।

गौरतलब है कि इस महीने की शुरुआत में जापान ने भी दक्षिण कोरिया के खिलाफ इसी तरह के कदम उठाये थे।

दक्षिण कोरिया के व्यापार, उद्योग एवं ऊर्जा मंत्री सुंग युन-मो ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि

अंतरराष्ट्रीय निर्यात नियंत्रण प्रणाली के बुनियादी सिद्धांतों का पालन करने के लिए दक्षिण कोरिया का रणनीतिक सामानों पर निर्यात नियंत्रण जारी रहेगा।

श्री सुंग ने कहा कि एक ऐसे देश के साथ सहयोग करना बहुत मुश्किल है

जो अंतरराष्ट्रीय निर्यात नियंत्रण प्रणाली के बुनियादी सिद्धांतों का उल्लंघन करता हो

या लगातार इस प्रणाली को अनुपयुक्त ढंग से चलाता हो।

इससे पहले जापान ने रणनीतिक सामानों के निर्यात और आयात को लेकर

संशोधित कानून के तहत दक्षिण कोरिया को विश्वसनीय निर्यात सहयोगी देशों की सूची से हटा दिया दिया था।

इस सूची में शामिल देशों को रणनीतिक सामनों के निर्यात मामले में वरीयता दी जाती थी।

जापान ने महीने की शुरुआत में उसको अपनी सूची से बाहर कर दिया था।

जापान ने कोरिया को मेमोरी चिप और डिस्प्लेइंग पैनल निर्माण के लिए महत्वपूर्ण सामानों के निर्यात को लेकर नियम सख्त कर दिये थे।

श्री सुंग ने कहा कि अगर जापानी सरकार इस मामले में विचार-विमर्श के लिए बुलाती है

तो द. कोरियाई सरकार किसी भी समय और किसी भी स्थान पर इसके लिए तैयार रहेगी।

दक्षिण कोरिया ने अदालती फैसले को कड़ाई से लागू करने की बात कही

जापान के निर्यात संबंधी नियम इसलिए सख्त किये थे क्योंकि वहां की शीर्ष अदालत ने

निप्पोन स्टील और मिट्सुबिशी हैवी इंडस्ट्रीज समेत कुछ जापानी कंपनियों को जापानी औपनिवेशीकरण

के दौरान द. कारियाई लोगों से बिना वेतन के कठोर श्रम कराये जाने की क्षतिपूर्ति करने आदेश दिया था।

जापान ने 1910 से 1945 तक कोरियाई प्रायद्वीप को अपना उपनिवेश बनाकर रखा था।

उत्तर कोरिया के साथ दोनों ही देशों के संबंध खराब होने की वजह से

उसके इस फैसले को कूटनीतिक तौर पर महत्वपूर्ण समझा जा रहा है।



Spread the love
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
    2
    Shares

Be First to Comment

Leave a Reply

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com