Press "Enter" to skip to content

रघुवर दास के बयानों पर भी कांग्रेस ने आरोप जड़ दिये




रांचीः रघुवर दास के बयानों के तुरंत बाद कांग्रेस की भी प्रतिक्रिया आयी है। झारखंड प्रदेश




कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और डा राजेश

गुप्ता छोटू ने कहा है कि पांच वर्षों के अपने मुख्यमंत्रित्वकाल में रघुवर दास ने राज्य की

इतनी दुदर्शा कर छोड़ी की हर क्षेत्र में उत्पन्न संकट से उबरने में वक्त लग रहा है। उनके

पांच वर्षों के कार्यकाल में हर स्तर पर भ्रष्टाचार इतना बढ़ गया कि विभिन्न विभागों में हो

रही निरंतर जांच में एक के बाद एक दिन प्रतिदिन उनके कारनामों के नये-नये खुलासे हो

रहे है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की

शैक्षणिक और शारीरिक योग्यता की जगह बौद्धिक अक्षमता पर सवाल उठाने वाले पूर्व

मुख्यमंत्री रघुवर दास सही कह रहे है कि उनकी तरह से तिकड़म कर अपने पूंजीपति मित्रों

को किसी तरह का सहयोग उपलब्ध कराने का प्रयास नहीं किया। उन्होंने कहा कि रघुवर

दास ने अपने पांच वर्षों के कार्यकाल में भ्रष्टाचार और अंतर्विरोधों तथा अभिमान में इस

तरह से डूबे रहे कि अपनी जमीन की रक्षा करने वाले ग्रामीणों-किसानों पर गोलियां

चलायी, हजारों आदिवासियों पर देशद्रोह का मुकदमा किया गया। उन्होंने अपने कार्यकाल

में सिर्फ अडाणी और अम्बाणी को उपकृत करने का काम किया और आज भी किसानों को

देशद्रोह का सर्टिफिकेट बांटा जा रहा है।

रघुवर दास अपने कार्यकाल के घपलों घोटालों पर सफाई दें

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि रघुवर दास कानून

व्यवस्था की बात कर रहे है और यह पुलिसिया राज की बात कह रहे है, उन्हें बताना

चाहिए कि क्या विधि व्यवस्था दुरूस्त रहना ठीक बात नहीं है। उनके कार्यकाल में कई




ऐसे मामले आये, जिन्हें छिपाने की कोशिश की गयी और जांच भी प्रभावित करने की

कोशिश की गयी। रघुवर दास के शासनकाल में मोमेंटम झारखंड के नाम झारखंड ही नहीं,

पूरे देश के लोगों को लगा ठगा, हाथी को उड़ाने की कोशिश की गयी, युवाओं को रोजगार

देने के नाम छला गया, किसानों को देखा गया, व्यवसायियों और उद्योग क्षेत्र के लोगों को

भी बड़े-बड़े सपने दिखाकर उनका दोहन किया गया, हाथी उड़ाने वाले बौद्धिक क्षमता की

बात कर रहे हैं इससे ज्यादा हास्य विनोद और क्या हो सकती है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि गठबंधन सरकार को कमजोर बताने

वाले रघुवर दास को यह समझना चाहिए कि उन्होंने जिस तरह से तानाशाह की तरह

शासन किया, जिसमें उनके ही कैबिनेट के मंत्री लगातार सवाल उठाते रहे, सत्तापक्ष के

विधायकों को भी मुख्यमंत्री आवास के गेट से मुख्य द्वार से वापस लौटा दिया था, हर

काम में उनकी मनमानी चल रही थी, कम से कम अब ऐसी हालात नहीं है।

सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में चल रही सरकार संवेदनशीलता के साथ काम कर रही

है। दूसरी तरफ पिछली सरकार में जल, जंगल और जमीन की जिस तरह से लूट हुई,

उसका खामियाजा झारखंड को वर्षों तक भुगतना पड़ेगा। झारखंड की जनता की गाढ़ी

कमाई से भाजपा के बड़े-बड़े आलीशन कार्यालय बने,पैसे को दिल्ली और दूसरे राज्यों में

पहुंचाया गया, इतना ही नहीं बिहार, महाराष्ट्र, गुजरात के चुनाव में झारखंड का पैसा भेजा

गया था, सारे मामले की जांच हो रही है और भ्रष्टाचार की परत-दर-परत एक-एक कर

खुल रही है।



More from रांचीMore posts in रांची »

Be First to Comment

Leave a Reply