fbpx Press "Enter" to skip to content

असम में सीएबी विरोध में स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में




गुवाहाटीः असम में सीएबी (नागरिकता संशोधन विधेयक) के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों

के कारण स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है। राज्य में पिछले 12 घंटों के दौरान

हिंसा की कोई सूचना नहीं है। गुवाहाटी में पिछले दो दिनों से कर्फ्यू लगा है जबकि डिब्रूगढ़

में कर्फ्यू में पांच घंटे की छूट दी गयी है। गुवाहाटी में कर्फ्यू लागू है। लोग हालांकि, आज

सुबह जरूरी सामान खरीदने के लिए घरों से बाहर निकले।

सेना के जवान गुवाहाटी के संवेदनशील इलकों में लगातार गश्त कर रहे हैं।

ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (आसू) लगातार सीएबी का विरोध कर रहा है और उसने

चानमरी मैदान में 12 घंटे का धरना का आयोजन किया है। आसू को इस मुद्दे पर

विभिन्न राजनीतिक पार्टियों से समर्थन मिल रहा है।

उल्लेखनीय है कि संसद के दोनों सदन से पारित सीएबी विधेयक के मुताबिक 31

दिसंबर 2014 से पहले बांगलादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से गैर कानूनी

तरीके से आये हिंदू, पारसी, सिख, जैन, बैद्ध तथा ईसाई समाज के लोगों को बिना किसी

दस्तावेज के भारतीय नागरिता देने का प्रावधान है और इसके विरोध में पूर्वोत्तर के

राज्यों विशेषकर असम और त्रिपुरा के लोग प्रदर्शन कर रहे हैं।

असम में सीएबी के विरोध के बाद सेना उतारी गयी

कल रात से ही असम के विभिन्न इलाकों को सेना और अर्ध सैनिक बलों के हवाले करने

का काम प्रारंभ हो गया था। सेना के मार्च के बाद वहां सेना की अतिरिक्त टुकडियां भी

पहुंच चुकी हैं। इन लोगों ने विभिन्न इलाकों में अपना मोर्चा संभाल भी लिया है।

सेना के मैदान में आने के बाद से हिंसा की घटनाओं में कमी आयी है। सिर्फ कल रात

दिसपुर इलाके में सीआरपी की गोली से तीन लोगों के मारे जाने की खबर के बाद अब

तक किसी बड़ी हिंसा की कोई खबर नहीं है। इस बीच असम में सीएबी के मुद्दे पर

सत्तारूढ़ भाजपा की तरफ से भी अब तक कोई बयान जारी नहीं किया गया है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from असमMore posts in असम »
More from उत्तर पूर्वMore posts in उत्तर पूर्व »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »

3 Comments

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: