fbpx Press "Enter" to skip to content

दुकानदार भी अब पूछने लगे हैं क्रेताओं के बारे में

  • आधार नहीं तो कोई पहचान पत्र दिखाओ
  • पुलिसवाले भी दुकानदार को मना नहीं पाये
  • अपर बाजार में नजर आया नया नजारा
  • ग्राहकों के साथ होती रही लंबी बहस
संवाददाता

रांचीः दुकानदार भी अब रांची में हर अनजान क्रेता से उसके ठौर ठिकानों की जानकारी

लेने लगे हैं। जो ऐसी पहचान नहीं बता पाये उन्हें सीधे दुकान से टकराया जा रहा है। एक

दिन में इतने सारे कोरोना मरीजों के सामने आने के बाद ऐसा वाकया आज अपर बाजार

के दुकानदारों ने देखने का मौका दिया। वहां से गुजरते पत्रकार ने दुकानदार और क्रेता की

बात-चीत को ध्यान से सुना और बाद में पुलिस की भूमिका पर भी गौर किया।

दुकान पर सामान लेने आये चार ग्राहकों की पहचान पर संदेह होने की वजह से दुकानदार

ने सीधे उनसे पहचान बताने की बात कही। इस बात-चीत में उसने कोई संकोच भी नहीं

किया। उसने सामने खड़े लोगों ने पहचान के लिए आधार कार्ड की मांग की। आधार कार्ड

नहीं होने की बात कहने पर जिस गाड़ी से आये थे, उसका ड्राइविंग लाईसेंस अथवा कोई

दूसरा पहचान पत्र दिखाने को कहा। इस मुद्दे पर लोगों के साथ दुकानदार की तेज बहस भी

हुई। दुकानदार ने पहले से ही एहतियात के तौर पर अपनी दुकान के सामने रस्सी लगा

रखी है। इसी बहस के बीच दुकानदार को साफ कहते सुना गया कि अगर कोई भी संक्रमण

वाले इलाके से आ रहा है तो वह किसी दूसरी दुकान से सामान ले। वह अपनी जान को तथा

यहां आने वाले अन्य लोगों की जान को दांव पर नहीं लगाने जा रहा है।

दुकानदार तो पुलिस के आने पर भी अपनी बात पर डटा रहा

 बहस करने वालों ने इस पर पुलिस को भी बुलाने की बात कही। इसका उत्तर

दुकानदार ने गंभीरता के साथ दिया लेकिन वह बात अगल बगल के लोगों के लिए हंसी का

कारण बन गयी। दुकानदार ने कहा वह पुलिस क्यों सेना को भी बुला सकता है लेकिन उसे

पुलिस और सेना के बदले अपनी जान की फिक्र है। वह बिना संतुष्ट हुए किसी भी ऐसे

खरीददार को आगे नहीं आने देगा जो संक्रमित इलाके से आया है। वैसे भी संक्रमण वाले

इलाकों में दैनिक जरूरतों के सारे सामान उपलब्ध कराया जा रहा है। ऐसे में आम आदमी

को ऐसे इलाकों से निकलने की जरूरत ही क्या है।

दुकानदार की बात और वहां हो रहे शोरगुल को सुनकर पास खड़े पुलिसवाले भी वहां पहुंचे।

 अड़े होने की वजह से पुलिस भी इन ग्राहकों की कोई मदद नहीं कर पायी।

दुकानदार ने पुलिस के हस्तक्षेप पर उल्टे उन्हीं से यह सवाल कर दिया कि अगर उसे इस

वजह से संक्रमण होता है तो क्या पुलिस उनकी जिम्मेदारी लेगी। सवाल पेचिदा होने की

वजह से पुलिस ने वहां खरीदने आये लोगों को किसी अन्य दुकान से सामान खरीदने की

सलाह देकर किसी तरह इस विवाद को शांत किया।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!