fbpx Press "Enter" to skip to content

शरद पवार के साथ दिखा 51 एनसीपी विधायकों का बहुमत

  • होटल में टिके 48 विधायकों के अलावा भी दूसरों ने सूचना दी
  • एक लापता विधायक ने सिर्फ सूचना दी और समर्थन दिया
  • एक और एनसीपी विधायक फिलहाल लापता, शिकायत दर्ज
  • शिवसेना ने कहा विधायक तोडने की साजिश विफल होगी
वी शिवकुमार

मुंबईः शरद पवार के साथ ही अपनी पार्टी के विधायकों का बहुमत है।

इन विधायकों को एक साथ रखने के लिए उन्हें मुंबई के एक बड़े होटल

में ले जाया गया है। वहां वर्तमान में 48 विधायक टिके हुए हैं। दूसरी

तरफ इस होटल में नहीं पहुंचने वाले तीन अन्य विधायकों ने भी

मीडिया के माध्यम से अपना समर्थन शरद पवार के साथ होने की

सूचना दी है।

एनसीपी नेता शरद पवार इन विधायकों से मिलने आज सुबह रेनिसंस

होटल पहुंचे। इसी होटल में एनसीपी के विधायक ठहराये गये हैं। वहां

उन्होंने इन सभी विधायकों से बात-चीत भी की और वर्तमान

चुनौतियों के बारे में उन्हें आगाह भी कर दिया।

दूसरी तरफ एनसीपी के समर्थन का पत्र सौंपने वाले अजीत पवार अब

भी मीडिया के दूरी बनाकर चल रहे हैं। उन्होंने पार्टी के अन्य नेताओं से

भी संपर्क साधने का प्रयास नहीं किया है। वैसे समझा जाता है कि कल

रात हुई पार्टी की बैठक में उन्हें एनसीपी विधायक दल का नेता पद से

हटाये जाने के फैसले के बाद विधायकों का बहुमत शरद पवार की

तरफ सार्वजनिक होने के बाद वह अंदरखाने के अपने लिए कोई रास्ता

तलाश रहे हैं।

शरद पवार के साथ होने की बात कही तीन अन्य ने

इस बीच शाहपुर के विधायक दौलत दारोडा ने फोन पर अपने सकुशल

होने तथा शरद पवार के साथ होने की सूचना दी है। पहले उनके लापता

हो जाने की सूचना दर्ज करायी गयी है। खबर के मुताबिक वह अजीत

पवार के साथ कल सुबह राजभवन पहुंचे थे। वहां शपथ ग्रहण समारोह

में मौजूद होने के बाद से ही वह अपने पुत्र करण के साथ लापता हो गये

थे। इस बीच करण ने मीडिया के सामने आते हुए कहा कि वर्तमान में

वह अपने पिता के संपर्क में नहीं हैं लेकिन शीघ्र ही वह पिता को श्री

पवार के साथ खड़े होने की बात कहेंगे। इस बीच एक मीडिया समूह को

फोन पर खुद श्री दारोडा ने अपने सकुशल होने और शरद पवार के साथ

होने की जानकारी दी है। दूसरी तरफ कणवल (नासिक) से विधायक

नितिन पवार के लापता होने की खबर आ रही है। इसको लेकर पंचवटी

पुलिस स्टेशन में विधायक के बेटे ने लिखित शिकायत दर्ज कराई है।

बैठक में जाने की बात कहकर घर से निकले नितिन पवार का फोन बंद

है। नितिन को अजीत पवार का समर्थक माना जाता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from नेताMore posts in नेता »
More from महाराष्ट्रMore posts in महाराष्ट्र »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

4 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!