fbpx Press "Enter" to skip to content

सात हजार करोड़ की धोखाधड़ी में 14 राज्यों में छापामारी




  • सीबीआई ने इस मामले में 35 मामले दर्ज किये
डॉ नवीन आनंद जोशी

भोपालः सात हजार करोड़ की धोखाधड़ी के मामले में सीबीआई ने देश

भर में छापामारी की है। इस मामले में देश के करीब 14 राज्यों में

छापेमारी हुई है। सीबीआई ने छापेमारी के दौरान सात हजार करोड़

रुपए से ज्यादा की बैंक धोखाधड़ी के मामलों में 35 केस दर्ज किए हैं।

सीबीआई ने 14 राज्यों की 169 जगहों पर छापेमारी को अंजाम दिया है।

बताया जा रहा है कि ये छापेमारी अभी भी जारी है। केंद्रीय जांच ब्यूरो

(सीबीआई) ने आज देश के करीब 14 राज्यों में छापेमारी की है। सीबीआई

ने छापेमारी के दौरान सात हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की बैंक धोखाधड़ी

के मामलों में 35 केस दर्ज किए हैं। सीबीआई ने 14 राज्यों की 169 जगहों

पर छापेमारी को अंजाम दिया है। बताया जा रहा है कि ये छापेमारी अभी

भी जारी है। सीबीआई अधिकारियों ने बताया है कि आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़,

दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब,

तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड के साथ-साथ दादर

और नगर हवेली में सीबीआई की तरफ से छापे मारे जा रहे हैं।

सूत्रों के मुताबिक जिन मामलों की जांच हो रही है उनमें एसईएल

मैन्यूफैक्टरिंग द्वारा बैंक ऑफ महाराष्ट्र में 113.55 करोड़, एडवांस

सर्फैक्टेंट द्वारा एसबीआई से 118.49 करोड़, एसके नीट द्वारा देना

बैंक से 42.16 करोड़, कृष्णा नीटवेयर टेक्नोलॉजी द्वारा कनारा बैंक

से 27 करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी के मामले शामिल हैं।

जांच के दायरे में आयी कंपनियों के सभी प्रोमोटर्स एवं निदेशकों के

खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली

और गुरुग्राम के अलावा चंडीगढ़, लुधियाना, देहरादून, नोयडा, बारामती,

मुंबई, ठाणे, सिलवासा, कल्याण, अमृतसर, फरीदाबाद, बेंगलुरु, तिरुपुर,

चेन्नई, मादुरै, क्वीलोन, कोचिन, भावनगर, सूरत, अहमदाबाद, कानपुर,

गाजियाबाद, भोपाल, वाराणसी, चंदौली, भतिंडा, गुरुदासपुर, मुरैना,

कोलकाता, पटना और हैदराबाद शामिल हैं।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from घोटालाMore posts in घोटाला »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from राज काजMore posts in राज काज »

2 Comments

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: