fbpx Press "Enter" to skip to content

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ददई दूबे के पुत्र का रांची के अस्पताल में निधन







डाक्टरों की कोशिशों के बाद भी नहीं बचाया जा सका

पिछले दो दिनों से गंभीर हालत में चल रहा था ईलाज

संवाददाता

रांची: वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ददई दूबे के बड़े बेटे अजय दूबे इस दुनिया को अलविदा कह गए।

सोमवार को दोपहर डेढ़ बजे मेडिका अस्पताल के सूत्रों ने मौत की पुष्टि की।

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता के पुत्र अजय दूबे को शनिवार रात को मेडिका में सीरियस हालात में एडमिट करवाया गया था।

दो दिनों तक डॉक्टरों ने पूरी कोशिश की, पर अंतत: उनको बचाया नहीं जा सका।

ददई दूबे और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था।

अजय की मौत की सूचना मिलते ही रांची से लेकर पलामू तक उनके समर्थकों, शुभचिंतकों के बीच शोक की लहर दौड़ गयी।

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता खुद शोकाकुल नजर आये

ददई दूबे के बेटे अजय दूबे विश्रामपुर विधानसभा से वर्ष 2014 में कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ चुके थे।

इस बार भी वे इस जिद्द में थे कि उन्हें विश्रामपुर से चुनाव लड़ना है।

राजनीतिक सूत्रों की मानें तो खुद ददई दूबे विश्रामपुर सीट पर बेटे को चुनाव लड़ाना चाहते थे और खुद बोकारो सीट से अपना भाग्य आजमाना चाहते थे।

हालांकि पार्टी इसके लिए तैयार नहीं हुई।

कांग्रेस ने टिकट को लेकर शनिवार की रात को ही अंदरुनी रूप से विश्रामपुर से ददई दूबे को उम्मीदवार घोषित किया था।

रविवार को पार्टी ने सिंबल भी जारी कर दिया।

अजय दूबे विश्रामपुर से अपना टिकट कट जाने से परेशान थे।

शनिवार की रात ही उन्हें आनन-फानन में मेडिका अस्पताल में दाखिल करवाया गया,

जहां डॉक्टरों ने उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए वेंटिलेटर लगा दिया था।

दो दिन तक अथक प्रयास करने के बावजूद उनकी स्थिति नहीं सुधरी,

बल्कि लगातार हालत खराब होती गयी और अंतत: आज दिन के 1.30 बजे के करीब डॉक्टरों ने हार मान ली।

मौत को लेकर अलग अलग बाते कही जा रही है पारिवारिक सूत्र हार्ट अटैक या ब्रेन स्ट्रोक को मौत का कारण बता रहे हैं

तो सूत्र यह भी बता रहे हैं कि टिकट ना मिल पाने और पिता की नाराजगी के कारण अजय दूबे ने आत्महत्या कर ली है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply