Press "Enter" to skip to content

सऊदी युवराज ने राजा की हत्या हेतु जहरीले अंगूठी तलाशी थी

Spread the love



ओस्लोः सऊदी युवराज फिर से एक विवादों में हैं। इस बार देश छोड़कर भाग चुके सऊदी अरब के प्रमुख खुफिया अधिकारी ने यह आरोप लगाया है। आरोप में कहा गया है कि उन्होंने ने वहां के राजा को मार डालने के लिए रुस से जहरीले अंगूठी की तलाश की थी।




इस बारे में कई लोगों से बात चीत भी की गयी थी। देश छोड़कर भाग चुके इस पूर्व खुफिया अधिकारी का नाम साद अलिजाबरी है। वह इनदिनों कनाडा में रहते हैं।

वह पूर्व में सऊदी अरब के शीर्ष गुप्तचर अधिकारी थे तथा राजा के करीबी लोगों में से एक थे। वहां के राजा सलमान बिन अब्दुल अलीज अल सउद के भांजा भी हैं। उनके मुताबिक सत्ता पलट के बाद उन्हें देश छोड़कर भागना पड़ा है।

उनका कहना है कि सऊदी अरब के युवराज ने वर्ष 2014 में इस तरीके से जहरीले अंगूठी की तलाश की थी। याद दिला दें कि सऊदी अरब के बागी पत्रकार जमाल खगोशी की हत्या में भी सऊदी अरब के युवराज का नाम पहले ही आ चुका हैं।

कूटनीतिक कारणों से इस सत्य का पता होने के बाद भी अमेरिका ने अब तक उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है।

इस देश छोड़ चुके अधिकारी के मुताबिक युवराज ने उनसे इस बात का जिक्र किया था कि जहरीली अंगूठी मिलने के बाद वह राजा से मिलने और हाथ मिलाने के बहाने अपनी साजिश को अंजाम दे सकते हैं।




इस क्रम में यह भी बताया गया है कि रुस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन से मिलने के बाद युवराज के मन में यह साजिश पनपी थी।

सऊदी युवराज ने रुस में यह योजना बनायी थी

इस पूर्व अधिकारी के मुताबिक दरअसल सऊदी अरब का युवराज एक मनोरोगी है और उसे किसी से कोई सहानूभुति नहीं है।

बिन सलमान के सत्ता में आऩे के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई बार युवराज अपने कारनामों की वजह से विवादों में घिर चुके हैं।

बागी पत्रकार जमाल खगोशी की हत्या के बाद ही पहली बार इजरायल में बना पिगासूस स्पाईवायर चर्चा में आया था। इसी स्पाईवायर के जरिए खगोशी के मित्रों के माध्यम से उसकी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही थी।

उसके तुर्की स्थित सऊदी दूतावास जाने की अग्रिम सूचना की वजह से ही युवराज की तरफ से हत्यारों के एक दल को वहां भेजा गया था। अब जहरीली अंगूठी की बात सामने आने के बाद उसके फिर से विवादों में घिर गये हैं।



More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बयानMore posts in बयान »
More from सऊदी अरबMore posts in सऊदी अरब »

Be First to Comment

Leave a Reply