fbpx Press "Enter" to skip to content

सैनेटाइजर की अधिक कीमत लेने के आरोप में जांच, केस दर्ज

  • कई गांवों को ग्रामीणों ने किया सील

  • कोई भी भूखा दिखे तो संपर्क करे

  • जरुरत मंद लोगों के बीच ब्रेड बांटा

संवाददाता

गोलाः सैनेटाइजर की अधिक कीमत लेने की शिकायत की भी पुलिस ने आज जांच की।

वास्तविक मूल्य से अधिक दाम में सैनेटाइजर और मास्क बेचने के आरोप में प्रशासन

ने डीवीसी चौक स्थित अग्रवाल मेडिकल स्टोर की अधिकारियों ने जांच की। बताया

गया कि सोशल मीडिया में अग्रवाल मेडिकल स्टोर का एक वाउचर डाला गया था,

जिसमें कहा गया था कि सैनेटाइजर का मूल्य 300 रुपया लिया गया है। व्हाट्सएप्प के

माध्यम से डाला गयी सूचना पर सीएम हेमंत सोरेन ने डीसी रामगढ़ को ट्वीट कर

कार्रवाई करने का आदेश दिया था। जांच पर वाउचर का स्टोर में केश मेमो से मिलान

किया गया। उसके बाद औषधी निरीक्षक पुतली बिलुंग ने गोला थाना में मेसर्स अग्रवाल

मेडिकल हॉल के मालिक भोला शंकर अग्रवाल के विरुद्ध केस दर्ज कराया।

थाना प्रभारी धनंजय प्रसाद ने बताया कि थाना में मेडिकल हॉल के मालिक भोला शंकर

अग्रवाल के विरुद्ध गोला थाना कांड संख्या 38-20202 में धारा 1940 सेक्शन 65(4)(3)

केस दर्ज किया गया है। जांच दल में बीडीओ कुलदीप कुमार, स्वास्थ्य विभाग के

औषधि निरीक्षक पुतली बिलुंग, प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी अरविंद कुमार, थाना

प्रभारी धनंजय प्रसाद, थाना के पुलिस अवर निरीक्षक, सहायक अवर निरीक्षक, दुर्जय

सिंह, अखिलेश्वर सिंह, मनदीप सिंह सदलबल मौजूद थे।

सैनेटाइजर का गोरखधंधा तो गरीबों के लिए संगठन सक्रिय

पांचवें दिन शुक्रवार को भी गोला बाजार में सन्नाटा पसरा रहा। कुछ राशन दुकानें खुली

रही, जहां लोग अपनी आवश्यकता के सामान खरीदते नजर आए। शेष सभी दुकानें पूरी

तरह बंद रही। एक-दो दो पहिया वाहनों को छोड़कर सड़कों पर गाड़ियां नहीं चली।

प्रशासन ने दुकानों में हिदायत देते हुए सुबह दस बजे तक ही दुकानें खुली रखने और

अपने ग्राहकों को दूरियां बनाकर रहने की सलाह देने को कहा। पुलिस के जवान बेवजह

घर से बाहर निकले लोगों को घर भेजते हुए नजर आए। डेली मार्केट एसएस प्लस टू

हाई स्कूल गोला के खेल मैदान में लगाया गया, जहां दूरियों में घेरा डालकर किसान

सब्जी बेचते नजर आए। यहां लोग भी उक-दूसरे अपने आप अलग-अलग दिखे। डेली

मार्केट में थोक भाव में खरीदार करने वाले व्यापारी के शहरी क्षेत्रों से नहीं आने पर

उनकी सब्जियां खुदरा भाव में बिक्री हुयी। साथ ही किसान जल्दी-जल्दी सब्जी बिक्री

कर अपने गांव वापस लौट गए। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के उपाय में लॉक

डाउन में ग्रामीणों ने अपने गांवों को सील कर दिया है। किसी भी दूसरे गांव से या बाहर

से लोग उनके गांव में बगैर तहकिकात के प्रवेश नहीं कर सकते। इसके लिए ग्रामीणों ने

अपने गांव के बाहर रास्ते में बांस-लकड़ी डाल दिया है। इधर गोला के गीता भारत गैस

एजेंसी के महेन्द्र अग्रवाल, बाबा स्वीट्स के अजय पाठक ने गोला के डेली मार्केट,

विभिन्न मंदिरों, अस्पतालों, रेलवे स्टेशन में भ्रमण करके जरुरतमंद लोगों के बीच ब्रेड

और बिस्कुट का वितरण किया।

इलाका का भ्रमण कर जरुरतमंदों को भोजन

मजबूरी के कारण रांची से बोकारो जा रहे पैदल यात्रियों को भी ब्रेड और बिस्कुट दिया

गया। कहा गया कि इस लॉक डाउन में कोई भी भूखा ना रहे इसके लिए गोला में लोग

हमसे संपर्क करे। कई लोग वाहन नहीं मिलने के कारण पैदल ही अपने घर जा रहे हैं।

उन्हे बाजार नहीं खुला रहने के कारण खाने को कुछ नहीं मिल रहा है। वे भूखे प्यासे

पैदल ही अपने घर के लिए निकल गए है। जरुरतमंद लोगों के बीच खाना देते हुए कहा

गया कि कोई भी भूखा ना रहे इसके लिए लोग महेन्द्र अग्रवाल, अजय पाठक, मनोज

मिश्र, चिरंजीवी पाठक से संपर्क करे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from रामगढ़More posts in रामगढ़ »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat