बिहार प्रशासनिक परिक्षा में 36वाँ स्थान पाकर बढ़ाया परिवार का मान, बधाई देने वालों का लगा तांता

बिहार प्रशासनिक परिक्षा में 36वाँ स्थान पाकर बढ़ाया परिवार का मान, बधाई देने वालों का लगा तांता
Spread the love
  • 10
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    10
    Shares

बेरमो/कथारा : बिहार प्रशासनिक परिक्षा में 36वाँ स्थान पाकर शहबाज खान ने बढ़ाया

अपने परिवार के साथ-साथ अपने शहर और राज्य का मान।

जहां शाहबाज के परिजनों, दोस्तों, सगे संबंधियों के साथ-साथ शहरवासियों का बधाई देने वालों का लगा तांता।

बता दें कि सीसीएल कथारा दो नबंर कॉलोनीवासी उस समय हर्ष व उल्लास में डुब गई

जब स्वांग कोलियरी में ड्रिल ऑपरेटर के पद पर कार्यरत इम्तियाज खान का

पुत्र शहबाज खान का बीपीएससी का परिक्षा फल घोषित हुआ।

जिसमे उसे बिहार प्रशासनिक सेवा श्रेणी में 36 रैंक हासिल हुआ।

उक्त खबर के फैलते ही रिश्तेदारों, दोस्तों मित्रों व परिचितों के अलावे क्षेत्र के

लोग उनके घर पहुंच कर बधाई देना आरंभ कर दिया।

घर परिवार वालो का तो मानो खुशी का ठीकाना ही नहीं था।

शाहबाज ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि 12वीं तक की पढ़ाई

उन्होंने थारा डी ए वी से पूरी की मगर आरंभ से ही उसे सिविल सर्विस में जाने का उमंग था।

जिसके लिए उसने आगे की पढ़ाई दिल्ली यूनिवर्सिटी से पूरी करने के साथ-साथ

जामिया मिलिया कोचिंग सेंटर में प्रशासनिक सेवा की तैयारी में जुटा रहा।

इस बीच अनेकों परीक्षाएं दी पर सफलता नहीं मिली।

कहा कि असफलता से मेरा हौसला और बढ़ता गया और तैयारियां लगातार जारी रखा परिणाम आप सबके सामने है।

उन्होंने विद्यार्थियों को संदेश देते हुए कहा कि असफलता से निराश ना हो बल्कि उसी को अपना ताकत बना ले।

कहा कि परीक्षण उपरांत उन्हें बिहार सरकार में एसडीएम के पद पर नियुक्ति मिलेगी

पद ग्रहण कर वे देश सेवा के साथ साथ क्षेत्र के दबे कुचले का सेवा करेंगे।

पिता इम्तियाज व माँ नाजरा खान मीडिया से बात करते हुए खुशी के आंसू छलकते हुए कहा कि

उन लोगों ने अपने कलेजे पर पत्थर रख अपने इकलौते पुत्र को

कामयाबी कि इसी उम्मीद से लंबे समय तक अपने से दूर रखा

और उसके पुत्र ने भी उसे निराश नहीं किया मौके पर दोनों बहने ने

भी भाई की सफलता की खुशी का इजहार किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.