fbpx Press "Enter" to skip to content

नवनिर्मित सड़क को बनाने में घटिया सामग्री का इस्तेमाल

केरेडारी: नवनिर्मित सड़क का निर्माण हुआ है जिसकी प्रकलित रासी 98 लाख

रुपए निर्धारित है। सड़क निर्माण कार्य ग्रामीण पथ निर्माण विभाग (आरईओ।)

हजारीबाग द्वारा किया जा रहा है। जिसका संवेदक ओम प्रकाश नामक व्यक्ति

है। कार्य संवेदक के तौर पर निर्माण कार्य अजित पांडे द्वारा किया जा रहा है।

उक्त सड़क का निर्माण की लंबाई दो किलो मीटर है। सड़क निर्माण में प्रयुक्त

मेटेरियल का उपयोग संवेदक द्वारा नहीं किया जा रहा है। पथ निर्माण विभाग

द्वारा निर्धारित मेटेरियल की गुणवतता की अंधेखी खुलेआम की जा रही है! पथ

निर्माण विभाग द्वारा कार्य निर्माण हेतु देख- रेख के लिए प्रतिनियुक्ति

इंजीनियर भी खामोश है! जबकि उक्त मार्ग से हजारों की आबादी के आवा गमन

का मुख्य सड़क है! सड़क निर्माण में हो रहे घोर अनियमितता को कोई सुधि लेने

वाला नहीं है! विभागीय अधिकारियों से लेकर जन प्रतिनिधि भी सब जान कर

भी खामोशी लगाए बैठे हैं! सड़क निर्माण में गुणवत्ता पूर्ण मेट्रियल का नहीं

उपयोग होने के सवाल पर जब राष्ट्रीय खबर संवाददाता ने जानना चाहा तो निर्माण कार्य

में शामिल एक व्यक्ति ने बताया कि क्या होगा सब माइनेज है! बिना चढ़ावा के कुछ नहीं

होता! निर्माण कार्य में इस्टीमेट के मुताबिक मटेरियल का उपयोग होने पर एवं विभागीय

लोगों के चढ़ावा नहीं देने पर काम में तरह-तरह की समस्या खड़ी हो जाएगी! समस्या खड़ी

करने वाले लोग विभाग से लेकर अन्य हैं जिनको मैनेज करने के बाद ही कार्य हो पाता है!

नहीं मैनेज करने पर यह काम भी नहीं हो पाएगा जिसकी मैं गारंटी लेता हूं!

नवनिर्मित सड़क की गुणवत्ता से स्थानीय लोगों को शिकायत

वही उपस्थित आस-पड़ोस के आम आवाम ने नाम नहीं प्रकाशित करने की शर्त पर बताया

कि संवेदक एवं निर्माण कार्य संवेदक दोनों व्यक्ति की पकड़ विभाग के अधिकारियों से

अच्छी है इनके खिलाफ विभाग भी कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं करता है! सड़क निर्माण

कार्य का विरोध तो आम आवाम अपने स्तर से कर रहे हैं लेकिन संवेदक के लोगों के द्वारा

भविष्य में कोई काम नहीं आने का बात का कर एक प्रकार से विरोध करने वाले को मुंह

शांत किया जाता है! अगर इसी तरह निर्माण कार्य पर खामोशी छाई रही तो जैसे तैसे

संवेदक द्वारा सड़क का निर्माण कार्य पूरा करके निर्धारित प्राकृत राशि का निकासी कर

लिया जाएगा!


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from घोटालाMore posts in घोटाला »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from हजारीबागMore posts in हजारीबाग »

One Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: