fbpx Press "Enter" to skip to content

राष्ट्रीय खबर की बात फिर सही साबित हुई केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर रतन संजय

  • सशस्त्र सीमा बल में केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर गये
  • पूर्णिया लूट कांड में बहुत सख्ती बरतकर चर्चा में
  • विनोद कुमार के बाद एसपी के खिलाफ दूसरे आईजी
ब्यूरो प्रमुख

भागलपुरः राष्ट्रीय खबर का समाचार संबंधी आकलन एक बार फिर सही साबित हुआ है।

तेज तर्रार आइपीएस अधिकारी रतन संजय केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जा रहे हैं। बताते चलें

कि सबसे पहले राष्ट्रीय खबर ने कई अन्य सूचनाओं के साथ साथ इस बात का खुलासा

पहले ही कर दिया था। वैसे पूर्णिया के एक मामले की चर्चा के दौरान ही उनका जिक्र पहली

बार किया गया था। बाद में यह स्पष्ट कर दिया था कि वह दरअसल अब केंद्रीय

प्रतिनियुक्ति पर जाना चाहते हैं। इस खबर के बाद अब राष्ट्रीय खबर को इस बात की

जानकारी मिली है कि आईजी रैंक के अफसर रतन संजय सशस्त्र सीमा बल मे जा रहे हैं।

इस बारे में बिहार पुलिस को केंद्र सरकार के स्तर पर सूचना भेज दी गयी है। जिसमें बिहार

के डीजीपी को यह सूचित किया गया है कि 1998 बैच के आईपीएस अधिकारी को सशस्त्र

सीमा बल में पांच वर्षों की केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर भेजा जा रहा है। भारत सरकार के अंडर

सेक्रेटरी डीके घोष के हस्ताक्षर से जारी इस आदेश के तहत श्री संजय की पांच वर्षों की

प्रतिनियुक्त उनके नये पद पर योगदान के बाद से प्रारंभ होगी।

राष्ट्रीय खबर ने दिसंबर में इसका एलान कर दिया था

बताते चलें कि वर्तमान में सशस्त्र सीमा बल के महानिदेशक पद पर भी बिहार कैडर के ही

आईपीएस अधिकारी कुमार राजेश चंद्रा हैं। पिछले दिनों जब गुप्तेश्वर पांडेय ने अचानक

वीआरएस ले लिया था तो कुमार राजेश चंद्रा का नाम भी चर्चा में आया था। लेकिन

अनुमान लगाया जाता है कि उन्होंने केंद्रीय तैनाती से बिहार लौटने से शायद इंकार कर

दिया था। याद दिला दें कि पिछले दिसंबर महीने में जब बिहार के आईपीएस अफसरों के

तबादले पर खबर छपी थी, उसी वक्त राष्ट्रीय खबर ने यह प्रकाशित कर दिया था कि रतन

संजय केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जा सकते हैं। राष्ट्रीय खबर ने जिस बात का आकलन

किया था, वह आज केंद्रीय अधिसूचना के बाद सही साबित हो चुका है। 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राज काजMore posts in राज काज »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: