fbpx Press "Enter" to skip to content

राज्यसभा ने जनता कर्फ्यू को समर्थन के लिए देशवासियों की सराहना की

नयी दिल्ली : राज्यसभा ने जानलेवा वायरस कोरोना से निपटने के लिए जनता कर्फ्यू का

पालन करने और कोरोना से लड़ने वाले योद्धाओं के योगदान को सलाम करने के लिए

देशवासियों की सराहना की है। राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने सदन की

कार्यवाही शुरू होने पर सोमवार को कहा कि देश में कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण

असाधारण हालात पैदा हो गये हैं। केन्द्र और राज्य सरकारें इससे निपटने के लिए

मिलकर प्रयास कर रहे हैं और जरूरी कदम उठाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने

इसी कड़ी में लोगों से रविवार को जनता कर्फ्यू के तहत सुबह सात से शाम नौ बजे तक

घरों में रहने के लिए कहा था। साथ ही उन्होंने लोगों से कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने

वाले डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों को योद्धा बताते हुए सभी देशवासियों से उनके योगदान

को सलाम करने के लिए शाम पांच बजे अपने घरों की बालकनियों में खड़े होकर ताली

बजा कर हर्षघ्वनि करने को कहा था। श्री नायडू ने कहा कि देशवासियों ने प्रधानमंत्री की

अपील को मानकर बहुत अच्छा सहयोग दिया है और वह सदन से अनुरोध करते हैं कि

देशवासियों के इस कदम और सहयोग की मेज थपथपा कर सराहना करें। उन्होंने कहा कि

कोरोना के प्रकोप को देखते हुए सरकार की ओर से अनेक पाबंदी लगायी गयी हैं और

उनका सभी लोगों से अनुरोध है कि इनका पूरी तरह पालन किया जाये।

राज्यसभा ने पूरे देश को नियम का पालन करने को कहा

उन्होंने कहा कि लोगों को कुछ असुविधा तो होगी लेकिन यह लड़ाई जीतने के लिए ये

पाबंदी जरूरी है। सभापति ने कहा कि उनकी नेता विपक्ष, सदन के नेता और विभिन्न दलों

के नेताओं से कोरोना के कारण स्थिति पर चर्चा हुई है और यह सहमति बनी है कि आज

का कामकाज निपटाने के बाद सदन की कार्यवाही बजट सत्र के निर्धारित समय से पहले

ही आज अनिश्चतकाल के लिए स्थगित कर दी जायेगी। बजट सत्र पूर्व कार्यक्रम के

अनुसार तीन अप्रैल तक चलना था।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply

Open chat
Powered by