fbpx Press "Enter" to skip to content

वैकल्पिक अस्पताल तैयार करने पर सतर्क हुआ प्रशासन

संवाददाता

रांचीः वैकल्पिक अस्पताल तैयार करने की तैयारियां रांची में शुरु कर दी गयी है। कोरोना

संक्रमण का दायरा बढ़ने के साथ साथ ही इसकी आवश्यकता महसूस की गयी थी।

वर्तमान में कोरोना की ईलाज के लिए अलग से निर्धारित शैय्या के मुकाबले मरीजों की

संख्या बढ़ गयी है। इस क्रम में हर रोज नये मरीज भी इसमें जुड़ते जा रहे हैं। वैसे इस

संक्रमण के बढ़ने के पीछे बाहरी संक्रमण हैं अथवा नहीं, इस बारे में स्वास्थ्य विभाग की

तरफ से कोई जानकारी नहीं दी गयी है। स्वास्थ्य विभाग ने स्थिति की गंभीरता को

आंकते हुए सिर्फ कोरोना संक्रमण की जांच की गति को तेज किया है।

इसके तहत अन्य केंद्रों और सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में भी आइसोलेशन वार्ड तैयार किये

जा रहे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक डोरंडा के रिसालदार बाबा की मजार के पास भी

अलग से आइसोलेशन वार्ड तैयार करने की तैयारियां नजर आयी हैं। वहां भी इसके लिए

अतिरिक्त बेड कल ही ला दिये गये थे। उन्हें अब व्यवस्थित करने का काम चल रहा है।

इसके अलावा भी खेल गांव में बने क्वारेंटीन केंद्र के अलावा भी अलग से वहां कोरोना के

मरीजों का ईलाज किया जा सकता है या नहीं उसकी संभावनाओं पर भी विचार किया जा

रहा है।

वैकल्पिक अस्पताल बेड तैयार करने में प्रशासनिक विलंब


प्रशासनिक तैयारियां देर से ही प्रारंभ हुई हैं लेकिन ऐसा माना जा सकता है कि अतिरिक्त

बेड का इंतजाम के साथ साथ गंभीर रुप से संक्रमित होने वाले रोगियों के लिए वेंटीलेंटरों

का इंतजाम करना एक टेढ़ी खीर साबित होगी। इन अस्थायी अस्पतालों में रोगियों को

ऑक्सीजन देने का इंतजाम तो किया जा सकता है लेकिन जिन मरीजों को लगातार

वेंटीलेटर पर रखना होगा, उसके लिए अलग से होने वाले तकनीकी इंतजाम में वक्त लग

सकता है। वैसे जानकार मानते हैं कि पहले की कार्यशैली के आधार पर यह माना जा

सकता है कि अपने अनुभव के आधार पर पहले काम करने वाले तकनीकी लोग इस काम

को भी समय रहते पूरा कर लेंगे।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

One Comment

Leave a Reply