fbpx Press "Enter" to skip to content

लापुंग – कमडारा 33 हजार लाइन में विद्युत आपूर्ति ठप

  • विद्युत विभाग के कर्मचारी मरम्मत में जुटे

  •  

    चीनी मिट्टी की जगह पॉलीमर का इंसुलेटर

संवाददाता

लापुंग : लापुंग – कमडारा उच्च क्षमता की बिजली लाइन में ही बड़ी गड़बड़ी आ गयी है।

इस वजह से प्रखंड के हुलसू, चालांगी, कोयनारा, दानेकेरा,पांडू समेत कई गांव कई दिनों से

अंधेरे में डूबा है । वहीं दूसरी ओर ग्रामीणों के अनुसार लापुंग प्रखंड के लालगंज गांव में

बिजली के तार गिरने और 11,000 वोल्ट लाइन का फ्यूज उड़ने के कारण पिछले चार दिनों

से गांव में बिजली नहीं है । बिजली नहीं रहने के कारण पूरा लालगंज गांव अंधेरे में डूबा है

। लालगंज के ग्रामीणों का कहना है कि इस संबंध में गांव के ग्रामीण कई बार विद्युत

विभाग के अधिकारियों और लापुंग सबस्टेशन के कर्मचारियों से गुहार लगा चुके हैं ।

लेकिन ना बिजली की मरम्मत की गई और ना तार को जोड़ा गया । लगातार चार दिनों से

बिजली नहीं रहने के कारण छात्र-छात्राओं की पढ़ाई, छोटे बड़े कुटीर उद्योग, व्यवसायिक

प्रतिष्ठान, लोगों की मोबाइल चार्जिंग समेत अन्य जरूरतें नहीं हो पा रही हैं जिसके कारण

ग्रामीण भारी परेशान है । लापुंग में विद्युत विभाग को देखने वाले केयरटेकर और ठेकेदार

असमुद्दीन खान के अनुसार 35000 लाइन में अलग-अलग जगहों पर वज्रपात की घटना

होने से कई जगहों पर इंसुलेटर पंक्चर हो गया है । दिन भर विद्युत विभाग का कर्मचारी

कनीय अभियंता सुभाष कुमार के नेतृत्व में लगातार फॉल्ट खोजने और उसे ठीक करने में

लगा हुआ है ।

लापुंग – कमडारा की लाइन को सुधारने में बार बार बाधा

चीनी मिट्टी के पुराने इंसुलेटर होने के कारण वह टूट कर बिखर जाता है और पंक्चर नहीं

मिलता। उन्होंने दावा किया कि बहुत जल्द लापुंग की बिजली व्यवस्था को ठीक कर

लिया जाएगा । चीनी मिट्टी की जगह में अब पॉलीमर का इंसुलेटर डाला जा रहा है जिससे

फॉल्ट में कमी आएगी । उन्होंने यह भी कहा कि लालगंज के ग्रामीणों की शिकायत

निराधार है ।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कामMore posts in काम »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from लाइफ स्टाइलMore posts in लाइफ स्टाइल »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!