पहले था नक्सलियों का डेरा अब लगती है थाना प्रभारी की कक्षा

पहले था नक्सलियों का डेरा अब लगती है थाना प्रभारी की कक्षा
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

प्रतिनिधि

हुसैनाबाद : पहले जहां नक्सलियों का जमघट लगा रहता था, वहां अब बच्चे नियमित पढ़ने आते हैं।

इस इलाके में पढ़ाई कराने खुद थाना प्रभारी आते हैं।

बच्चों के बीच यह थाना प्रभारी बतौर मास्टर ज्यादा लोकप्रिय हो गये हैं।

अनुमंडल  क्षेत्र के अन्तर्गत महुड़ड पंचायत नक्सलियो से लगातर परिशान रहती थी

  लेकिन,आज महुड़ड अपी थाना परिसर निर्माण से जनता को भी चैन मिला है।

हुसैनबाद महुड़ड क्षेत्र नक्सलियो से परिशान ताबाहि के कारण वहां के बच्चों का भविष्य पहले पूरी तरह अंधकारमय था।

ओपी स्थापित होने के बाद जनता को थोड़ी राहत मिली है।

महुडंड पंचायत के क्षेत्र मे अभी भी अनेक ऐसे गांव हैं, जहां आजादी के बाद से आज तक न तो मीडिया और न नेता पहुंच पाये हैं।

आज महुड़ड ओ पी थाना प्रभारी उपेन्द्र पासवान इलाके के सैकड़ों बच्चों के लिए मास्टरजी की भूमिका निभा रहे हैं।

इससे वहां की जनता भी उनकी प्रशंसक हो चुकी है।

बच्चों की पढ़ाई के दौरान नये मास्टर साहब उन बच्चों को अपनी तरफ से

किताब और कॉपी के  साथ साथ कई बार खाना भी देते हैं।

ग्रामीणों का कहना है कि ऐसा थाना प्रभारी तो भगवान ने भेजा है,

जो कमसे कम बच्चों का भविष्य सुधारने में मदद कर रहे हैं।

अब तो गांव के लोग भी थाना प्रभारी की क्लास में अपने बच्चों को देखकर खुश होते हैं।

इनमें गांव के कुरदाम सिंह, नागेन्द्र सिंह, संजय परहिया, धजय परहिया, सुदामा परहिया,

गुप्तेश्वर परहिया, रितेश परहिया, विगनी देवी, ममिला देवी, फूलवा देवी, अनिता देवी,

बेलास मेहता, नैनवास देवी आदि से बच्चों की पढ़ाई के दौरान मुलाकात हुई।

जो थाना प्रभारी द्वारा बच्चों को पढ़ाये जाने से खुश हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.