fbpx Press "Enter" to skip to content

पुलिस बहाली घोटाले के आरोपी भाजपा नेता का आत्मसमर्पण

  • पार्टी में मची है खलबली, दिवाण डेका दल से निष्कासित

  • सरकार के भ्रष्टाचार उजागर होने की संभावना

  • नवसृजित जिला के पटाखरुची में किया सरेंडर

  • पत्नी के साथ यात्रा करते पुलिस ने धर दबोचा

भूपेन गोस्वामी

गुवाहाटी : पुलिस बहाली घोटाले के अभियुक्त और बीजेपी के आरोपी फरार नेता दिबाण

डेका अपनी पत्नी के साथ यात्रा करते पुलिस के हत्थे चढ़ गये। आरोप है कि यह नेता सब-

इंस्पेक्टर भर्ती घोटाला में शामिल था। उन्होंने असम पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर

दिया है। 24 साल तक बीजेपी की सेवा करने का दावा करने वाले दिबाण डेका ने 30

सितंबर की देर रात को नवसृजित बाजीली जिले के पटाखरुची पुलिस स्टेशन में

आत्मसमर्पण कर दिया। उन्हें 1 अक्टूबर को लगभग 95 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में

गुवाहाटी लाया गया था। श्री डेका कथित तौर पर 20 सितंबर को होने वाली पुलिस सब-

इंस्पेक्टर नौकरी की परीक्षा के प्रश्न पत्र को लीक करने में लिप्त थे। लीक हुए सवालों की

हाथ से लिखी गई प्रतियों का इस्तेमाल 50 उम्मीदवारों के लिए आयोजित “लिखित

परीक्षा” में किया गया था। असम पुलिस ने दिबाण डेका पर सूचना देने वाले को 1 लाख

रुपये का इनाम घोषित किया था।

असम पुलिस ने एक प्रेस बयान में कहा कि गुवाहाटी सिटी पुलिस को क्राइम ब्रांच केस

नंबर 13/2020 यू / एस 418/420/120 (बी) आईपीसी में वांछित आरोपी दिबोन डेका के

बारे में विश्वसनीय जानकारी मिली थी। तदनुसार क्राइम ब्रांच की टीम 30 सितंबर की

मध्य रात्रि को उस स्थान पर पहुंच गई थी। उसी दिन, लगभग 11.49 बजे, पथसला शहर

के पास चेकिंग के दौरान उक्त डिबोन डेका अपनी पत्नी के साथ यात्रा करते हुए पाया

गया। उक्त मामले में वांछित आरोपी व्यक्ति के रूप में पहचाने जाने पर, उसे हिरासत में

लिया गया और अपराध शाखा के अधिकारियों द्वारा एक मजबूत पुलिस एस्कॉर्ट के तहत

गुवाहाटी लाया गया जहां उसे मेडिकल जांच के बाद पुलिस लॉक अप में दर्ज किया गया।

पुलिस बहाली घोटाला में अभियुक्त न्यायिक हिरासत में 

उन्हें गुवाहाटी अदालत में पेश किया गया और गुवाहाटी सिटी पुलिस अपराध शाखा की

पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।पुलिस के अनुसार, असम पुलिस की

अपराध शाखा द्वारा की गई छापेमारी के दौरान गुवाहाटी के गणेशगुरी में थैंक यू लॉज में

एक प्रश्न पत्र बरामद होने के बाद इस घोटाले में दीवान डेका की संलिप्तता सामने आई।

सूत्रों के अनुसार, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था), असम, जीपी सिंह

के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम दीवान डेका को गुवाहाटी ले जा रही है।राज्य के पुलिस

महानिदेशक भास्कर ज्योति महंत ने अपने राज्य के पुलिस बल के शामिल होने से

इनकार किया, जबकि गृह विभाग के प्रभारी मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि भर्ती

परीक्षा घोटाले के लिए जिम्मेदार पाए जाने पर किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा। हालांकि,

असम पुलिस के आपराधिक जांच विभाग के विश्वसनीय स्रोत ने कहा कि भाजपा नेता

दिबन डेका ने घोटाले में कई “बेईमान” पुलिस अधिकारियों को शामिल करने का संकेत

दिया है। पूछताछ करने के बाद, भाजपा नेता डिबाना डेका ने घोटाले में शामिल कई

भाजपा और आरएसएस नेताओं का नाम लिया। इसे लेकर असम पुलिस और भारतीय

जनता पार्टी के भीतर खलबली मच गई है। असम पुलिस के एक विश्वसनीय सूत्र ने कहा

कि कांग्रेस द्वारा लगाए गए आरोप अभी सच होने लगा है। भाजपा के एक नेता और

आरएसएस नेता भी घोटाले में बराबर की हिस्सेदारी के साथ सामने आए हैं।

आरोप है कि इस गड़बड़ी में शामिल हैं कई अन्य नेता भी

अब भाजपा की अगुवाई वाली असम सरकार में भ्रष्टाचार उजागर होने की संभावना है।

इस बीच, भारतीय जनता पार्टी असम के प्रदेश अध्यक्ष रंजीत कुमार दास ने अपराधी

दिबोन डेका को तुरंत पार्टी से निष्कासित कर दिया है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अदालतMore posts in अदालत »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from असमMore posts in असम »
More from घोटालाMore posts in घोटाला »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

One Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: