fbpx Press "Enter" to skip to content

पुलिस हिरासत में संजय यादव की मौत को लेकर भागलपुर में फिर बवाल




  • होली खेलने को लेकर दो पक्षों में मारपीट

  • पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाये लोगों ने

  • इलाज के दौरान संजय यादव की मौत हुई है

  • बरारी थाना प्रभारी प्रमोद साह सस्पेंड हुए

दीपक नौरंगी

भागलपुर : पुलिस हिरासत में संजय यादव नामक एक व्यक्ति की मौत की वजह से

बरारी थाना क्षेत्र में काफी देर तक बवाल हुआ। सिंचाई विभाग मे कार्यरत इस व्यक्ति की

मौत के बारे में स्थानीय लोगों का आरोप था कि पुलिस हिरासत में लिये जाने के बाद

उसकी थाना में पिटाई की गयी थी। इसी पिटाई की वजह से उसकी मौत हो गयी है। बरारी

थाना प्रभारी प्रमोद कुमार साह को सीनियर एसपी निताशा गुड़िया ने निलंबित कर दिया

है और जांच हेतु विशेष टीम गठित किया है।

वीडियो में समझ ले पूरा माजरा क्या है

भागलपुर जिला जो बिहार में अति संवेदनशील जिला माना जाता है। छोटी होली के दिन

जब दो समुदाय का अलग-अलग महत्वपूर्ण त्यौहार था। 28 मार्च को बबरगंज थाना क्षेत्र

में 2 घंटे में दो बम विस्फोट हुआ है। उसके बाद 29 मार्च को तीन घटना घटी। इनमें दो

घटना बरारी थाना क्षेत्र की है और एक घटना जीरोमाइल की है। बरारी थाना क्षेत्र के यह

घटना दो समुदाय के लोगों के बीच हुई। दूसरी घटना दो पक्षों में होली खेलने को लेकर हुई.

इसी घटना में पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक बरारी

थाना क्षेत्र मायागंज में दो पक्षों में होली खेलने को लेकर विवाद हुआ था। उस मामले को

लेकर पुलिस ने दोनों पक्षों को शांत कराया था। स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस ने

दोनों पक्षों को बेवजह मारपीट की है। पुलिसिया बर्बरता बात सामने आ रही है। सोमवार

की बीते रात बरारी थाना एसएचओ प्रमोद साह के नेतृत्व में पूरी पुलिस टीम मायागंज मैं

फ्लैग मार्च कर रही थी। ग्रामीणों के कथन अनुसार पूरी पुलिस टीम वहां के ग्रामीणों पर

बरस पड़े कई घरों में जाकर भी बदसलूकी करने का इल्जाम लगा रहे हैं। पुलिस के द्वारा

जबरन संजय यादव को गले में गमछा बांधकर घसीटते हुए लाठी डंडा से पीटते हुए थाना

लाया गया । परिजनों के अनुसार संजय यादव की मौत पुलिस हिरासत में थाना में पिटाई

करने के चलते तबीयत ज्यादा बिगड़ गई और उसे मायागंज अस्पताल ले जाते समय

रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। मायागंज अस्पताल ले जाने के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत

घोषित कर दिया गया।

पुलिस हिरासत में मौत का मामला बिहपुर थाना का भी

कुछ महीनों पहले नवगछिया पुलिस जिला के बिहपुर के आशुतोष पाठक की पुलिसिया

रवैया से बर्बरता से मौत का मामला ठीक ढंग से सुलझा भी नहीं था कि दूसरा मामला

बरारी थाना क्षेत्र से जुड़ा है। संजय यादव की बेटी का कहना है मुझे न्याय चाहिए। मृत

संजय कुमार यादव मायागंज से लाकर बरारी थाना में रख दिया गया है। ग्रामीणों का

बवाल जारी है। सोमवार की देर रात थाना परिसर को घेर लिया। परिजन का रो रो कर बुरा

हाल है। संजय यादव अपने पीछे एक बेटा और दो बेटी को छोड़ गए। बताते चलें क्यों इस

दौरान मायागंज मोहल्ले में जितने भी लोग आते जाते दिख रहे थे सभी पुलिसिया बर्बरता

में शामिल होते चले गए संजय को बर्बरता पूर्वक पीटा गया। पूरे मामले में पुलिस

मुख्यालय पूरी तरह गंभीर हुआ और महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश भागलपुर के मामले में दिए

गए। उसके बाद सीनियर एसपी निताशा गुड़िया ने थाना प्रभारी प्रमोद कुमार साह को

निलंबित कर दिया है और इस पूरे मामले की जांच के लिए एक टीम का गठन कर दिया

है। पुलिस हिरासत में हुई इस मौत के अलावा भी भागलपुर में कई घटनाएं हुई है। उनको

लेकर पुलिस मुख्यालय की नजर भागलपुर पर है लेकिन इसका कुछ ज्यादा अच्छा

रिजल्ट आम जनता को देखने को नहीं मिल रहा है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from भागलपुरMore posts in भागलपुर »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: