Press "Enter" to skip to content

युवती के साथ हुए दुष्कर्म के तीन आरोपियों के सुराग की तलाश जारी

  • दुष्कर्म और हत्या की तीन आरोपी का सुराग खोज रही पुलिस

  • जांच के बाद भी आस पास के इलाकों से नहीं मिली मदद

  • घटनास्थल पर जांच को राजद के वरीय नेता भी पहुंचे

मोहसीन आलम

ओरमांझी: युवती के साथ हुए दुष्कर्म के मामले की जांच आज भी जारी रही। ओरमांझी

प्रखंड के साईं नाथ यूनिवर्सिटी के पीछे होने वाली दर्दनाक घटना 2 दिन से काफी बेरहमी

सुर्खियों में है।

वीडियो में देखें आज का घटनाक्रम

यह निंदनीय घटना महिला समाज के लिए दिल दहला देने वाली बात है।ओरमांझी थाना

के कुचचु पंचायत के जीराबार स्थित साईं नाथ यूनिवर्सिटी के पीछे जंगल में वरदात को

अंजाम दिया गया। घिनौना वरदात जैसा अंजाम देना काफी शर्मनाक वारदात है। मानव

जाती को शर्मसार करने वाली और दिल दहला देने वाली घटना है। निर्वस्त्र सर कटा शव

बरामद और नए साल के शुरुवाती सप्ताह में रोंगटा खड़ा करने वाली वरदात। महिलायों के

प्रति पूरा राज्य की महिलाओ को खौफ होने की बात सामने आ रही है। सुबह आज ग्रामीण

एसपी नौशाद आलम, सिल्ली डीएसपी चंद्रशेखर आजाद, ओरमांझी थाना प्रभारी श्याम

किशोर महतो और पिठोरिया प्रशासन की मौजूदगी में सर्च अभियान चलाया गया। अभी

तक ताजा रिपोर्ट में सर कहीं से बरामद नहीं हुआ है और युवती का शिनाख्त नहीं हो

पाया। जिला प्रशासन की ओर से घटना के सम्बन्ध में जानकारी देने वाले व्यक्ति को 25

हजार से बढ़ाकर 50 हजार रखा गया है। जिला प्रशासन के लिए चुनौती बनती जा रही है।

लेकिन कानून के लम्बे हाथों से दर्दनाक कारनामा को अंजाम देने वाला दरिंदगी शख्श बच

नहीं सकता। भले ही आरोपी आसमान या ज़मीन के निचे सुरंग बनाकर छुप जाए लेकिन

कानून के लम्बे हाथों से हत्यारा बच नहीं सकता। झारखण्ड में पहली राजनीतिक पार्टी

राष्ट्रीय जनता दल घटनास्थल पर पहुचे। आज राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष के

नेतृत्व में 2 दिन पहले ओरमांझी में साईं नाथ यूनिवर्सिटी के पीछे जीराबार में एक लड़की

की बेरहमी से हत्या हुई थी।

युवती के साथ हुए दुष्कर्म की जांच राजद की टीम ने भी की

राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष ने अपने पूरी टीम के साथ घटना की जानकारी लेने के

लिए ओरमांझी थाना पहुंचे और घटना की जानकारी ली और साथ में पूरी टीम के साथ

ओरमांझी थाने से घटनास्थल की दूरी लगभग 8 किलोमीटर साईं नाथ यूनिवर्सिटी के

पीछे पारस पतरा जीराबार की है। वहां पर राष्ट्रीय जनता दल के पूरी टीम पहुंची और

राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष माननीय अभय कुमार सिंह जी एवं पूर्व मंत्री

माननीय राधा कृष्ण किशोर जी ने घटना की निन्दा की। घटनास्थल के दौरा में

उपस्थित झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष माननीय अभय कुमार सिंह, पूर्व मंत्री राधा

कृष्ण किशोर, युवा प्रदेश अध्यक्ष रंजन, प्रदेश प्रवक्ता स्मिता लकड़ा, प्रदेश मीडिया

प्रभारी अंजल किशोर सिंह, महानगर महिला मोर्चा अध्यक्ष प्रियंका सिंह,गायत्री देवी,

शौकत अंसारी, अब्दुल गफ्फार अंसारी, सरफराज, संतोष राम, संतोष शर्मा और राष्ट्रीय

जनता दल के प्रदेश, युवा प्रदेश, जिला एवं महानगर के कार्यकर्ता उपस्थित हुए।

इस बीच एक महिला ने उस युवती को अपनी बेटी होने का दावा किया है। फिलहाल पुलिस

इस दावे की पुष्टि नही कर रही है। पुलिस का कहना है कि अब तो डीएनए जांच से ही

इसकी पुष्टि हो पायेगी।

मुख्यमंत्री पर हमले की जांच कमेटी गठित

इधर मुख्यमंत्री के काफिले पर कल रात हुए हमले के मामले में सरकार ने एक जांच

कमेटी गठित कर दी है। इस घटना के सिलसिले में पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार

किया है। दूसरी तरफ स्थानीय लोग आरोप लगा रहे हैं कि पुलिस सिर्फ खानापूर्ति केलिए

वैसे युवकों को भी गिरफ्तार कर रही है, जिनका इस घटना से कोई लेना देना नहीं है।

सरकार ने इस कांड के लिए रांची के डीसी और एसएसपी को कारण बताओ नोटिस भी

जारी किया है।

Spread the love
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

One Comment

... ... ...
Exit mobile version