fbpx Press "Enter" to skip to content

पुलिस और नक्सलियों के बीच घाघरा के पास मुठभेड़

  • एक ईनामी नक्सली को मार गिराने का दावा

  • सीआरपी के साथ मिलकर चलाया गया अभियान

  • इलाके में घेराबंदी और तलाशी का काम अब भी जारी

गुमलाः पुलिस और नक्सलियों के बीच गुमला जिला में मुठभेड़ की सूचना है। मिली

जानकारी के मुताबिक यह टकराव जिला के विशनपुर थाना क्षेत्र के घाघरा गांव के पास

हुई है। विलंब से मिली सूचना के मुताबिक पुलिस और नक्सलियों के बीच यह मुठभेड़

मंगलवार की शाम को हुई है। दरअसल पता यह भी चला है कि इस इलाके में नक्सली

दस्तों की गतिविधियों की सूचना मिलने के बाद से ही पुलिस सतर्क अवस्था में थी। सूत्रों

की मानें तो पुलिस ने इस इलाके में भाकपा माओवादी कमांडर रविंद्र गंझू के दस्ते को घेरा

था। इसी दस्ते के बारे में पहले से ही यह सूचना पुलिस तक पहुंच रही थी कि हथियारबंद

नक्सली इलाके में घूम रहे हैं। अब मुठभेड़ समाप्त होने के बाद पुलिस ने एहतियात के

तौर पर इलाके की घेराबंदी कर रखी है और सावधानी के साथ तलाशी का अभियान भी

चलाया जा रहा है। यह अपुष्ट सूचना है कि दोनों पक्षों के बीच हुई इस मुठभेड़ में एक

इनामी नक्सली मारा गया है। लेकिन अब तक उसके नाम की घोषणा औपचारिक तौर पर

नहीं की गयी है।

पुलिस और नक्सलियों का टकराव घेराबंदी के दौरान

नक्सली दस्तों की गतिविधियों की सूचना मिलने से सतर्क पुलिस को अपने वरीय

अधिकारी के माध्यम से नक्सलियों के मूवमेंट की जानकारी मिली थी। खबर थी कि पंद्रह

लाख का ईनामी नक्सली रविंद्र गंझू अपने दस्ते के साथ यहां मौजूद है। वह जंगलों में घूम

रहा है। इसी गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस और सीआरपीएफ की टीम ने संयुक्त

छापेमारी अभियान चलाया था। पुलिस और नक्सलियों के आमने सामने आ जाने के बाद

नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पहले से ही सतर्क पुलिस ने भी गोलियों से

इसका जबाव भी दिया। दोनों पक्षों के बीच वहां करीब आधे घंटे तक गोलियां चलने की

सूचना है। जिसमें पुलिस की गोली से एक नक्सली मौके पर ही मारा गया। पुलिस को

भारी पड़ता देख नक्सली घने जंगल का फायदा उठा कर भागने में सफल रहे। लेकिन

इलाके की घेराबंदी और तलाशी के जरिए पुलिस अन्य भागने वाले नक्सलियो का पता

लगाने की कोशिश कर ही है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat