Press "Enter" to skip to content

पिज्जा और बर्गर की होम डिलेवरी तो राशन में क्या दिक्कत हैः अरविंद केजरीवाल

नईदिल्लीः पिज्जा और बर्गर की होम डिलेवरी तो पूरे कोरोना काल में होती रही है। जब

इन सामानों की घर पहुंच सेवा से कोई दिक्कत नहीं है तो दिल्ली सरकार की घर पहुंच

राशन सेवा से केंद्र सरकार को क्या परेशानी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने घर पहुंच राशन

सेवा को केंद्र सरकार द्वारा रोके जाने के बाद यह प्रतिक्रिया व्यक्त की है। केंद्र सरकार की

दलील है कि इस योजना को लागू करने से पहले दिल्ली सरकार ने केंद्र से अनुमति नहीं

ली है। इस पर दिल्ली की आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि दरअसल राशन

माफिया और उससे लाभ पाने वाले नेताओं के प्रभाव में केंद्र सरकार आम आदमी को

राहत देने वाली इस योजना को रोक रही है। लोगों को यह राशन उनके घर पर पहुंचा देने

से राशन की जो कालाबाजारी होती रही है, वह पूरी तरह बंद हो जाएगी। आज इसी विषय

पर दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री केजरीवाल ने प्रति प्रश्न किया कि जब पिज्जा और बर्गर की

घर पहुंच सेवा जारी है, लोगों को स्मार्ट फोन और कपड़े भी उनके घर पहुंचा कर दिये जा

रहे हैं तो सिर्फ राशन पहुंचान में ही केंद्र सरकार को क्यों आपत्ति है। श्री केजरीवाल की

सरकार ने पिछले चुनाव में जनता से यह वादा किया था कि वे लोगों को उनके घर पर

राशन पहुंचाकर देंगे। इससे दिल्ली के 72 लाख लोगों को फायदा होने का अनुमान है।

पहले भी कई बार केंद्र की तरफ से इस योजना को लागू करने में अड़चने लगायी गयी हैं।

इस बार फिर से उसे रोके जाने को दिल्ली की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी राशन माफिया

और उससे लाभ पाने वाले नेताओं का प्रभाव बता रहे हैं।

पिज्जा और बर्गर जा रहे हैं तो राशन से क्या बिगड़ जाएगा

सिर्फ एक सप्ताह बाकी रहन के पूर्व केंद्र सरकार ने फिर से यह अड़ंगा लगाया है। आज

ऑनलाइन आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में श्री केजरीवाल ने कहा कि इस योजना को लागू करने

के लिए दिल्ली सरकार को केंद्र के अनुमति की जरूरत भी नहीं है। फिर भी पहले ही पांच

बार इस बारे मे केंद्र से अनुमोदन सिर्फ इसलिए लिया गया था ताकि कोई झंझट नहीं हो।

श्री केजरीवाल ने पिज्जा और बर्गर की घर पहुंच सेवा का औचित्य स्पष्ट करने का प्रति

प्रश्न भी किया था। साथ ही उन्होंने कहा कि फिलहाल नरेंद्र मोदी की सरकार हर किसी से

लड़ने में ही व्यस्त है। यहां की राज्य सरकार के अलावा पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के

अलावा महाराष्ट्र और झारखंड की सरकार को भी वह शत्रु मानती है। किसान भी सरकार

के लिए दुश्मन नजर आते हैं। अब तो लक्ष्यद्वीप के लोगों के साथ भी अन्याय हो रहा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने सीधे नरेंद्र मोदी को संबोधित करते हुए कहा कि अगर श्रेय लेने की

ही बात है तो वह अपनी तरफ से भी इसका एलान कर देंगे कि दिल्ली की जनता को यह

घर पहुंच राशन सेवा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के संयुक्त

प्रयास से प्राप्त हो रहा है। श्री केजरीवाल ने कहा कि इस बात को याद रखना होगा कि यह

राशन आम आदमी पार्टी अथवा भाजपा का निजी माल नहीं है।

Spread the love
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from बयानMore posts in बयान »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version