fbpx Press "Enter" to skip to content

कोरोना वॉरियर्स की गाड़ियों में मुफ्त में भरा जा रहा पेट्रोल-डीजल

रांची : कोरोना वायरस को हराने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया जा रहा है। सरकार

और जिला प्रशासन के साथ-साथ कई निजी कंपनियां भी अपनी भूमिका निभा रही हैं।

बेघर और गरीब तबके को अलग-अलग संस्थाएं दिलो जान से भोजन कराने में जुटी हुई

हैं। रांची में कुछ ऐसे पेट्रोल पंप हैं, जहां कोरोना वारियर्स की गाड़ियों में मुफ्त में डीजल

और पेट्रोल भरा जा रहा है। पड़ताल में पता चला कि रिलायंस कंपनी के पेट्रोल पंप ने

कोरोना वॉरियर्स के लिए यह सुविधा दे रखी है। एंबुलेंस, कोविड-19 अस्पताल में सेवारत

डॉक्टर और पैरामेडिकल कर्मियों के साथ-साथ जिला प्रशासन की गाड़ियों में पेट्रोल और

डीजल भरे जा रहे हैं। इस बारे में राजधानी रांची के बिरसा चौक स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप

के संचालक केएम सिंह ने बताया कि कंपनी की तरफ से आदेश मिला है कि कोरोना

वॉरियर्स की गाड़ियों में मुफ्त में पेट्रोल और डीजल डालना अनिवार्य है।

डीटीओ की ओर से दिया जाता है लेटर

इसके संबंधित जिले के डीटीओ की ओर से पेट्रोल पंप संचालक के नाम एक पत्र दिया

जाता है। उस पत्र के आधार पर संबंधित गाड़ी में मुफ्त में इंधन भरा जाता है। बिरसा चौक

स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप से अब तक करीब 8,000 लीटर पेट्रोल और डीजल दिए जा चुके

हैं। रांची में भी संचालित तीन अन्य रिलायंस के पेट्रोल पंप से भी यह सुविधा दी जा रही है।

कोरोना काल में 4 पेट्रोल पंप में विशेष सुविधा

पेट्रोल पंप के संचालक केएन सिंह ने बताया कि जब से लॉकडाउन शुरू हुआ है तब से अब

तक रांची के सभी 4 पेट्रोल पंप से करीब 32,000 लीटर से ज्यादा पेट्रोल और डीजल दिया

जा चुका है। पेट्रोल पंप संचालक रोजाना गाड़ियों से संबंधित लिस्ट के साथ इंधन का

विवरण भेजते हैं। इस आधार पर पूरा पैसा संचालक को कंपनी की ओर से मिल जाता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कामMore posts in काम »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from बयानMore posts in बयान »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!