fbpx Press "Enter" to skip to content

पटना बांस घाट में सिर्फ कोरोना से मरने वालों का होगा अंतिम संस्कार

पटना : पटना बांस घाट में अब सिर्फ कोरोना वायरस से मरे लोगों का ही दाह संस्कार

होगा। कोरोना महामारी के कारण मृतकों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए नगर आयुक्त

हिमांशु शर्मा ने यह व्यवस्था की है। उन्होंने तत्काल प्रभाव से पटना सिटी वार्ड संख्या 70

में नंदगोला घाट पर अंत्येष्टि के लिए व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। उक्त घाट पर

लकड़ी से दाह संस्कार किया जाएगा। इस घाट पर भी कोरोना मृतकों के अंतिम संस्कार

की प्रक्रिया पटना नगर निगम की ओर से नि:शुल्क की जाएगी। नंदगोला घाट पर भी

प्रमुख स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे, मे आई हेल्प यू डेस्क, कंट्रोल रूम आदि की व्यवस्था

की जाएगी। साथ ही कोरोना से मृत लोगों के अंतिम संस्कार के लिए पटना नगर निगम

द्वारा की गई व्यवस्थाओं की जानकारी माइक के माध्यम से भी प्रसारित की जाएंगी।

बांस घाट पर मात्र कोरोना संक्रमण से मृत व्यक्तियों का अंतिम संस्कार होगा। वहीं

गुलबी घाट, खाजेकलां घाट एवं नंदगोला घाट पर कोविड एवं अन्य परिस्थितियों में मृत

व्यक्तियों की भी अंत्येष्टि की व्यवस्था की जाएगी। पटना नगर निगम द्वारा सभी घाटों

पर कोविड मृत व्यक्तियों की अंत्येष्टि नि:शुल्क करायी जा रही है। इसके लिए सिक्किम,

सिलिगुड़ी एवं कोलकाता से लकड़ियां मंगाई गई हैं। अभी तक गुलबी घाट पर 20 टन एवं

खाजेकलां घाट पर 250 टन लकड़ी की व्यवस्था की गई है। वहीं, 50 टन लकड़ी मंगलवार

तक घाट पर पहुंचेगी।

पटना बांस घाट के अलावा अन्य स्थानों की शिकायत मिली

कोरोना के दौरान अंत्येष्टि घाटों पर बढ़ते दबाव को नियंत्रित करने के लिए पटना नगर

निगम द्वारा घाटों की संख्या बढ़ायी जा रही है। साथ ही कोविड मृतक के परिजनों से

अपील भी की जा रही है कि वे पार्थिव शरीर को घाट पर लेकर पहुंचने से पहले संबंधित

घाट के कंट्रोल रूम में कॉल कर दाह संस्कार के लिए पहले ही समय निर्धारित करवा लें एवं

कंट्रोल रूम द्वारा बताए समय पर पहुंच कर कम से कम अवधि में अंत्येष्टि की प्रक्रिया

पूर्ण करने में सहयोग करें। इसी बीच प्रशासन को यह शिकायत मिली है कि बांस घाट

समेत कुछ स्थानों पर लकड़ी से दाह संस्कार करने वालों का आर्थिक शोषण किया जा रहा

है और महंगे दामों पर लकड़ी या बेची जा रही हैं। इसके निराकरण का प्रयास शुरू कर दिया

गया है । आसपास के राज्यों खासकर झारखंड से मंगाई जा रही हैं, जो आज शाम तक

पटना पहुंच जाएंगी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from पटनाMore posts in पटना »
More from राज काजMore posts in राज काज »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: