fbpx Press "Enter" to skip to content

पाकुड़ जिला में कुल 1014 मतदान केंद्र, 7,36,287 मतदाता डालेंगे वोट

  • ईवीएम -वीवीपैट के साथ मतदान केंद्र को रवाना हुए मतदान कर्मी
  • पाकुड़ में सुबह सात से अपराह्न पांच बजे तक होगा मतदान
  • लिट्टीपाड़ा व महेशपुर में सुबह सात बजे से तीन बजे तक होगा मतदान
संवाददाता

पाकुड़: पाकुड़ जिला में मतदान पांचवे और अंतिम चरण में 20 दिसंबर को होगा। झारखंड

विधानसभा निर्वाचन 2019 के पांचवें चरण में जिले के लिट्टीपाड़ा, पाकुड़ और विधानसभा

में शुक्रवार को होने वाले चुनाव के लिए गुरुवार को बाजार समिति पाकुड़ परिसर से

मतदान कर्मियों व पुलिस पदाधिकारियों को ईवीएम के साथ विभिन्न बूथ के लिए रवाना

किया गया। मतदान कर्मी, सेक्टर मजिस्ट्रेट व पुलिस पदाधिकारी सुबह सात बजे से ही

बाजार समिति परिसर में बने लिट्टीपाड़ा, पाकुड़ व महेशपुर विधानसभा के लिए अलग –

अलग पंडाल में पहुंचने लगे। सुबह नौ बजे तक पार्टी मिलान हुआ। उसके बाद मतदान

कर्मी सामग्री कोषांग से सामग्री प्राप्त कर मिलान करने में व्यस्त हो गए।

सामग्री प्राप्त कर सेक्टर मजिस्ट्रेट व मतदान कर्मी परिसर में ही विधानसभावार बने

वज्रगृह से ईवीएम मशीन प्राप्त कर संबंधित बूथ के लिए रवाना हुए। सामान्य बूथ पर

तैनात मतदान कर्मी व पुलिस पदाधिकारी आज ही अपने बूथ पर पहुंच जाएंगे। जबकि,

संवेदनशील व अतिसंवेदनशील बूथ पर तैनात मतदान कर्मी व पुलिस पदाधिकारी रात्रि

ठहराव संबंधित कलस्टर प्वाइंट पर करेंगे। वहां से शुक्रवार तड़के अपने संबंधित बूथ के

लिए प्रस्थान करेंगे।

पाकुड़ जिला में प्रशासनिक पदाधिकारी रहे मुस्तैद

मतदान कर्मियों के बीच सामग्री वितरण व पुलिस पदाधिकारियों की रवानगी के समय

प्रशासनिक पदाधिकारी मुस्तैद दिखे। सुबह प्रथम पाली से ही जिला निर्वाचन पदाधिकारी

सह उपायुक्त कुलदीप चौधरी, पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन सिंह, उप विकास आयुक्त

राम निवास यादव, वाहन कोषांग के वरीय पदाधिकारी सह आइटीडीए निदेशक डा.

ताराचंद्र, निवार्ची पदाधिकारी पाकुड़ सह एसी जय किशोर प्रसाद, निवार्ची पदाधिकारी

लिट्टीपाड़ा सह एसडीओ प्रभात कुमार, निवार्ची पदाधिकारी महेशपुर सह डीसीएलआर

रविंद्र चौधरी, विशेष कार्य पदाधिकारी कुमार गौतम, जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी राम

प्रवेश कुमार समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

पूरे इलाके में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

पूरे पाकुड़ जिला में 1014 मतदान केंद्र: जिले में बूथ की संख्या 1014 है। जिले के

लिट्टीपाड़ा विधानसभा क्षेत्र में 272, पाकुड़ विधानसभा क्षेत्र में 434 और महेशपुर

विधानसभा क्षेत्र में 308 मतदान केंद्र हैं। इनमें 423 मतदान केंद्र संवेदनशील, 391

अतिसंवेदनशील और 200 मतदान केंद्र सामान्य हैं। संवेदनशील व अतिसंवेदनशील बूथ

पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। इन बूथ पर केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बल व जिला

शस्त्र बल के जवान मुस्तैद रहेंगे। 7,36,287 मतदाता करेंगे अपने मताधिकार का

इस्तेमाल: जिले के तीनों विधानसभा क्षेत्र में कुल 7,36,287 मतदाता अपने मताधिकार

का इस्तेमाल करेंगे। जिसमें 3,69,501 पुरूष मतदाता एवं 3,66,786 महिला मतदाता हैं।

लिट्टीपाड़ा एवं महेशपुर विधानसभा क्षेत्र के क्रमश: 53 और 12 मतदान केंद्रों को पी वन

कैटेगरी में रखा गया है। यहां मतदान कर्मी मतदान दिवस के एक दिन बाद ( 21 दिसंबर )

पाकुड़ पोलटैकनिक कॉलेज में ईवीएम – वीवीपैट समर्पित करेंगे। इस हेतु निर्वाचन

आयोग के तय मानक के अनुरूप अस्थायी स्ट्रांग रूम का निर्माण किया गया है। जिला

प्रशासन द्वारा संबंधित अभ्यर्थियों को भी इस संबंध में सूचित किया गया है। सभी स्ट्रांग

रूम कलस्टर प्रभारी एवं सक्षम पदाधिकारी के निगरानी में सील किए जाएंगे। जिले में 35

ऐसे मॉडल मतदान केन्द्र तथा 48 महिला मतदान केन्द्र बनाए गए हैं।

मॉडल मतदान केंद्रों में विशेष व्यवस्था रहेगी

इन मॉडल मतदान केन्द्र में जहां मतदाताओं के लिए विशेष व्यवस्था रहेगी। वहीं महिला

मतदान केन्द्र में सभी कर्मी महिलाएं होंगी। मतदान दिवस 20 दिसंबर को सभी

सार्वजनिक उपक्रम, प्रतिष्ठान, संस्थान में अवकाश घोषित करने का आदेश दिया गया

है। स्वंतत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध

है। 286 मतदान केन्द्र पर बेवकास्टिंग एवं 50 मतदान केन्द्र पर वीडियोग्राफी और 44

माइक्रो ऑब्जर्बर द्वारा मतदान की निगरानी की जाएगी। लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम,

1951 की धारा 126क की उप-धारा (1) के अधीन शक्तियों का प्रयोग करते हुए भारत

निर्वाचन आयोग, उक्त धारा की उप-धारा (2) के उपबंधों के संबंध में 30 नवंबर, 2019

(शनिवार) को पूर्वाह्न 07:00 बजे से 20 दिसंबर, 2019 (शुक्रवार) को अपराह्न 05:30 बजे

के बीच की अवधि को, ऐसी अवधि के रूप में अधिसूचित किया गया है। जिसके दौरान

झारखंड के विधानसभा निर्वाचन के संबंध में किसी भी प्रकार के एक्जिट पोल का संचालन

तथा प्रिंट या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया द्वारा इसका प्रकाशन या प्रचार अथवा किसी भी अन्य

तरीके से उसके प्रसार पर प्रतिबंध रहेगा।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from पाकुड़More posts in पाकुड़ »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!