Press "Enter" to skip to content

भारत ने पाकिस्तान से कहा हकीकत को स्वीकार करें







नयी दिल्लीः भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि वह जम्मू-कश्मीर पर नयी हकीकत को स्वीकार करते हुए

भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने की कोशिश न करे।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने आज यहां नियमित ब्रीफिंग में संवाददाताओं के सवालों के

जवाब देते हुए कहा कि पाकिस्तान परेशान है।

उसे लग रहा है कि अब जम्मू-कश्मीर को लेकर उसकी साजिशें सफल नहीं होगी

और लोगों को गुमराह करने का उसका एजेन्डा आगे नहीं बढ पायेगा।

इसलिए वह दुनिया के सामने चिंताजनक तस्वीर पेश कर भय का माहौल बनाने की कोशिश कर रहा है।

वह ऐसे मामलों को इस घटनाक्रम से जोड़ रहा है जिनका इससे कोई संबंध नहीं है।

उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के बारे में निर्णय संविधान के अनुसार किये गये हैं

और यह भारत का आंतरिक मामला है।

इस निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आयेंगे।

प्रवक्ता ने कहा कि केन्द्र सरकार के निर्णयों से जम्मू-कश्मीर में विकास की गति तेज होगी

जिससे वहां के युवाओं को भ्रमित करने का पाकिस्तान का एजेन्डा विफल हो जायेगा।

भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि इस नयी हकीकत को स्वीकार कर भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने की कोशिश से बाज आना चाहिए।

एक अन्य सवाल के जवाब में श्री कुमार ने कहा कि पाकिस्तान ने जो भी कदम उठाये हैं वे एकतरफा हैं

और इससे पहले भारत के साथ सलाह नहीं की गयी।

ये कदम दुर्भाग्यपूर्ण और खेदजनक हैं।

भारत ने पाकिस्तान से अपने फैसले पर दोबारा सोचने को कहा है

इसलिए भारत ने उससे इन निर्णयों पर पुनर्विचार करने को कहा है।

भारत को उम्मीद है कि पाकिस्तान इस बात पर विचार करेगा और महत्वपूर्ण लंबित मुद्दों का समाधान करेगा।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने कश्मीर पर भारतीय फैसले के तुरंत बाद अपनी प्रतिक्रिया स्वरुप भारत के साथ सारे व्यापारिक रिश्ते तोड़ दिये थे।

इस बीच अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र ने दोनों देशों को इस मुद्दे पर काफी सहिष्णुता बरतने की बात कही है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com