fbpx Press "Enter" to skip to content

नेहालु कपरिया गांव में धान की रोपनी बह गयी तेज बारिश में

संवाददाता

बेड़ो : नेहालु कपरिया गांव के बघिया टोली और बरटोली के बीच शनिवार को दोपहर

लगभग 3 बजे जोरदार बारिश हुई । मूसलाधार बारिश की तेज धार पानी से बहकर रोपा

धान पूरी तरह बर्बाद हो गई । भारी बारिश कि पानी ने अपने साथ खेतों में किसानों के

द्वारा की गई धान की रोपनी को बहाकर ले गई । इससे गांव के किसान क्रमशः राजेंद्र

उरांव ,सामु उरांव,काशी लोहरा ,जोगिया मुंडा,रंथु उरांव ,चेरे उरांव, पारसनाथ तिर्की समेत

दर्जनों लोगों की धान की रोपनी बुरी तरह बर्बाद हो गई । इससे किसानों को हजारों का

नुकसान उठाना पड़ा है । खेतों से धान की रोपनी के बह जाने से हजारों की पूंजी लगाकर

की गई धान का बिचड़ा रोपनी के रूप में पानी में बह गया । बेड़ो के प्रखंड प्रमुख महतो

भगत ने कहा कि सरकार तत्काल प्रभावित किसानों के बीच राहत कार्य चलाए और हुए

नुकसान का मुआवजा देकर भुगतान करें ताकि किसानों को कुछ राहत मिल सके ।

नेहालु कपरिया गांव के खेतों में नदी का नजारा

बारिश के काफी तेज होने की वजह से यहां के नेहालु कपरिया गांव के खेतों में धीरे धीरे

पानी चढ़ने लगा था। बारिश अधिक देर तक जारी रहने की वजह से बरसात के पानी का

प्रवाह भी तेज होता चला गया। इसी वजह से जब अनेक खेतों के मेढ़ों को तोड़ते हुए पानी

बहने लगी तो उसके साथ खेतो में लगी फसल यानी खास तौर पर धान के पौधे भी इस

तेज बहाव में बहकर चले गये हैं। दुखद स्थिति यह है कि इन किसानों ने कोरोना लॉक

डाउन के बाद किसी तरह बाजार से कर्ज लेकर इस बार की खेती के लिए पूंजी जुटायी थी।

यह सारा प्रयास तेज बारिश में बह गया है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »

2 Comments

Leave a Reply