Press "Enter" to skip to content

पलामू में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट का हुआ ऑनलाइन उद्घाटन







मेदिनीनगर(पलामू): पलामू के मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल (एमआरएमसीएच) में स्थापित प्रेशर स्विंग एडसोर्पसन (पीएसए) प्लांट का आज उद्घाटन हो गया। रांची के रिम्स आॅडिटोरियम से माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन एवं माननीय स्वास्थ्य मंत्री श्री बन्ना गुप्ता ने संयुक्त रूप से अन्य की गरिमामयी उपस्थिति में एमआरएमसीएच में इंस्टॉल किए गए पीएसए प्लांट का ऑक्सीजन उद्घाटन किया।

पीएसए प्लांट के उद्घाटन के मौके पर एमआरएमसीएच में सांसद विष्णु दयाल राम, एमआरएमसीएच के प्रचार्य डॉ. शैलेंद्र कुमार, उप विकास आयुक्त मेघा भारद्वाज, सदर अनुमंडल पदाधिकारी राजेश कुमार साह, अधीक्षक डॉ. आरडी नागेश सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार सिंह, कांग्रेस जिला अध्यक्ष जैश रंजन पाठक उर्फ बिट्टू पाठक, झामुमो जिला अध्यक्ष राजेंद्र कुमार सिन्हा सहित अन्य पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

पीएम केयर फंड से स्थापित पीएसए प्लांट के ऑक्सीजन उद्घाटन के उपरांत उप विकास आयुक्त, अनुमंडल पदाधिकारी सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने पीएसए प्लांट में लगाए गए शिलापट का अनावरण किया। साथ ही स्वीच दबाकर प्लांट की शुरूआत की। इसके बाद से आॅक्सीजन की आपूर्ति की जाने लगी।

पलामू के एमआरएमसीएच में स्थापित पीएसए प्लांट झारखंड का सबसे सुरक्षित पीएसए प्लांट है

मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार सिंह ने कहा कि पलामू के एमआरएमसीएच में स्थापित पीएसए प्लांट झारखंड का सबसे सुरक्षित पीएसए प्लांट है। उन्होंने कहा कि यह झारखंड के अन्य पीएसए प्लांटों से इसलिए अलग है कि यहां तकनीकी रूप से दक्ष लोगों को इस कार्य में लगाया गया है।

उन्होंने कहा कि एक इंजीनियर इसके इंचार्ज हैं, जबकि तीन ऐसे व्यक्ति को लगाया गया है, जो औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान से मैकेनिकल एवं इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में प्रशिक्षित हैं। सिविल सर्जन ने एमआरएमसीएच के नर्सिंग कॉलेज में प्रशिक्षण प्राप्त कर रही प्रशिक्षणार्थी छात्राओं से से उम्मीद, आशा एवं विश्वास जताया कि कोविड जैसे आपदा काल में जरूरत पड़ने पर उनकी सेवा ली जाएगी।

वहीं उन्होंने संकट की स्थिति में स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं छात्र संघ के सदस्यों से भी सेवा देने हेतु सहयोग की अपील की। उन्होंने कहा कि तमाम तैयारियों के बावजूद हम सबको कोविड-19 उचित व्यवहार अपनाना अति आवश्यक है। उन्होंने आम आवाम से अपील किया कि अति आवश्यक होने पर ही घरों से निकलें। घरों से निकलते वक्त मास्क जरूर लगाएं। भीड़-भाड़ से बचें। एक दूसरे के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करें।

अपने हाथों को सैनिटाइजर या साबुन पानी से सफाई करते रहें। साथ ही बच्चों को बाजार कशया भीड़भाड़ वाले सार्वजनिक स्थलों पर नहीं ले जाएं। उन्होंने कहा कि आपकी सावधानी ही आपके स्वास्थ्य के सुरक्षा का हथियार है। आप सावधान रहें। सुरक्षित रहें। स्वस्थ रहें। कोविड न आए इसके लिए हर एहतियाती कदम उठाएं।

पलामू जिला में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए जी-जान लगाकर लोगों की सुरक्षा को लेकर लड़े

सिविल सर्जन ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण के दूसरे चरण के दौरान पूरे देश में आॅक्सीजन को लेकर लोगों को परेशानियां उठानी पड़ी, लेकिन पलामू जिला में चिकित्सक एवं स्वास्थ्यकर्मियों ने कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए जी-जान लगाकर लोगों की सुरक्षा को लेकर लड़े।

जिला प्रशासन एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि सहित आम-आवाम का सहयोग मिला, जिसका परिणाम निकला कि पलामू में एक भी मौत ऑक्सीजन की कमी के कारण नहीं हुई। उन्होंने कहा कि पीएसए प्लांट लगने से यहां के लोगों को लाभ होगा। पीएसए प्लांट के लिए 500 केवीए का स्पेशल ट्रांसफार्मर लगाया गया है। साथ ही पावर बैकअप के लिए 250 केवीए का जैनसेज लगाया गया है, ताकि किसी भी परिस्थिति में ऑक्सीजन की निर्बाध गति में रुकावट नहीं आए। कार्यक्रम में राजेंद्र कुमार सिन्हा ने पलामू के एमआरएमसीएच में स्थापित पीएसए प्लांट की शुरूआत पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी महसूस की गई थी।

अब पीएसए प्लांट स्थापित होने से पलामू ही नहीं बल्कि इसके आसपास के लोगों को आॅक्सीजन के लिए परेशानी नहीं उठाना पड़ेगा। पीएसए प्लांट की स्थापना को लेकर उन्होंने मुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री को बधाई दी।

पीएसए प्लांट के उद्घाटन के मौके पर सांसद विष्णु दयाल राम, एमआरएमसीएच के प्राचार्य डॉ. शैलेंद्र कुमार, उप विकास आयुक्त मेघा भारद्वाज, सदर अनुमंडल पदाधिकारी राजेश कुमार साह, अधीक्षक डॉ. आरडी नागेश, सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार सिंह, सूचना विज्ञान पदाधिकारी रणवीर सिंह, झामुमो जिला अध्यक्ष राजेंद्र कुमार सिन्हा, कांग्रेस जिला अध्यक्ष जैश रंजन पाठक उर्फ बिट्टू पाठक, जिला परिषद सदस्य लवली गुप्ता सहित डीपीएम स्वास्थ्य दीपक कुमार, सुखराम बाबू के अलावा समाजसेवी मनोज सिंह, विजय ओझा, सन्नू सिद्दीकी, हॉस्पिटल मैनेजर सुमित कुमार, अजय ठाकुर, पीएसए प्लांट के इंचार्ज सुमित कुमार, आॅपरेटर अरविंद ठाकुर आदि उपस्थित थे।

पलामू जिला में प्रति मिनट 1000 लीटर ऑक्सीजन का होग उत्पादन

पीएसए ऑक्सीजन प्लांट से 24 घंटे प्रति मिनट 1000 लीटर ऑक्सीजन का उत्पादन होगा, जिससे एक समय में 200 मरीजों को 5 लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा सकेगी। प्लांट में 2 कंप्रेसर, 1 ड्रायर एवं 4 टावर (ऑक्सीजन टैंक) लगा हुआ हुआ है।

इसके अलावा अन्य उपकरण इंस्टॉल किए गए हैं। तकनीक के माध्यम से प्लांट वायुमंडल में व्याप्त हवा को ग्रहण करता है। इसके बाद एयर ड्रायर में जाता है, जहां हवा की नमी समाप्त होती है। 4 फिल्टर लगा हुआ है, जो वायुमंडल से ग्रहण किए गए हवा में मौजूद अवांछित चीजों को अवशोषित कर लेता है और आउटलेट को शुद्ध ऑक्सीजन आपूर्ति करता है। आउटलेट से पाइपलाइन के माध्यम से मरीजों को शुद्ध ऑक्सीजन उपलब्ध कराया जायेगा।



More from HomeMore posts in Home »
More from प्रोद्योगिकीMore posts in प्रोद्योगिकी »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »

One Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: