Press "Enter" to skip to content

झारखंड के बासुकीनाथ धाम में 31 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने किया जलार्पण




दुमकाः झारखंड के बासुकीनाथ धाम में संपन्न माहव्यापी विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेले के दौरान

31 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने भगवान शिव का जलाभिषेक किया।

उपायुक्त सह बासुकीनाथ न्यास समिति की अध्यक्ष राजेश्वरी बी. और अनुमंडल पदाधिकारी

सह समिति के सचिव राकेश कुमार ने आज यहां बताया कि 17 जुलाई से 15 अगस्त 2019 तक चले

झारखंड के विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला में

एक माह के दौरान 3106406 श्रद्धालुओं ने बाबा बासुकीनाथ धाम में भोलेनाथ पर जलार्पण किया।

इनमें 17940 डाक कावरियों और शीघ्र दर्शनम की सुविधा के तहत जलार्पण करने वाले 79249 श्रद्धालु भी शामिल हैं।

वहीं, वर्ष 2018 में 21162 डाक बम और 62402 शीघ्र दर्शनम सहित कुल 2768988 भक्तों ने

भगवान शिव का जलाभिषेक किया था।झारखंड के बासुकीनाथ धाम में 31 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने किया जलार्पण

श्रीमती राजेश्वरी ने बताया कि इस वर्ष बासुकीनाथ धाम में श्रावणी मेला के दौरान पहुंचे

श्रद्धालुओं से चढ़ावे के रुप में विभिन्न स्रोतों से तीन करोड़ तीन लाख 44 हजार 987 रुपये नकद आय हुई

जबकि पिछले वर्ष दो करोड़ 42 लाख 57 हजार 600 रुपये नकद राशि प्राप्त हुई थी।

उन्होंने बताया कि इस बार द्रव्य के रूप में 2857 ग्राम चांदी जबकि पिछले वर्ष 4528 ग्राम चांदी प्राप्त हुई थी।

उपायुक्त ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं के लिए बनाई गई अस्थायी टेंट सिटी में

लगभग 1.78 लाख और सूचना शिविर में लगभग एक लाख यात्रियों को नि:शुल्क आवासन की सुविधा मुहैया करायी गयी

जबकि पिछले वर्ष टेंट सिटी में लगभग 1.25 और सूचना शिविर में लगभग 70 हजार कांवर यात्रियों को यह सुविधा मुहैया कराई गई थी।

इस वर्ष न्यास समिति द्वारा चांदी के 10 ग्राम के तैयार 217 और पांच ग्राम के 209 सिक्के की बिक्री हुई है।

सावन के महीने में बैजनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं में से जो लोग कांवर लेकर सुलतानगंज से पैदल आते हैं।

उनमें से हर कोई अपनी यात्रा के क्रम में बासुकीनाथ धाम में भी पूजा करने के बाद ही आगे बढ़ता है।

अन्य दिनों में भी बैजनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं में से अधिकांश इस बासुकीनाथ धाम में भी पूजा करने आते हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
More from Hindi NewsMore posts in Hindi News »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »

Be First to Comment

Leave a Reply