fbpx Press "Enter" to skip to content

ओरमांझी के पास भीषण सड़क दुर्घटना में पांच की मौत

  • मेदांता में एक घायल ने दम तोड़ा बाकी पांच का ईलाज रिम्स में
  • भीषण टक्कर में जीप के परखच्चे उड़ गये
  • दुर्घटना के बाद बस चालक गाड़ी छोड़ फरार
  • स्थानीय लोगों ने भागकर घायलों की मदद की
प्रतिनिधि

ओरमांझीः ओरमांझी के पास आज सुबह एक भीषण सड़क दुर्घटना में
घटनास्थल पर ही पांच लोग मारे गये। ओरमांझी थाना क्षेत्र के चकला
मोड़ में रांची की ओर से तेज गति से आ रहे बस व विपरीत दिशा से आ
रहे कमांडर गाड़ी की सीधी टक्कर हो गयी।

जिससे कमांडर गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। इस भीषण सड़क दुर्घटना
में 4 लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। जबकि एक की मौत
मेदांता में इलाज के क्रम में हुई।

वही दुर्घटना में घायल पांच अन्य लोगों की स्थिति गंभीर बताई जा
रही है। जिन्हें मेदांता हॉस्पिटल व रिम्स पहुंचाया गया। इनमें से दो
को को रिम्स व तीन को गंभीर अवस्था में मेदान्ता हॉस्पिटल
पहुंचाया गया।

मेदान्ता हॉस्पिटल में दो महिलाओं के प्राथमिक उपचार के बाद रिम्स
भेज दिया गया। जिसमें एक की स्थिति गंभीर बताई जा रही है।

चश्मदीदों के मुताबिक लगभग सुबह 11 बजे रांची से हजारीबाग की
ओर तेज गति से जा रही झारखंड द्रुतगामी वातानुकूलित डीलक्स
सेवा की हेमकुंड नामक बस गाड़ी न. (जेएच 01 बीएफ 3666) जैसे
ही चकला मोड़ जेबरा क्रॉसिंग पर पहुंची तो विपरीत दिशा से आ रही
कमांडर गाड़ी उसके सामने गयी।

ओरमांझी के पास सड़क दुर्घटना का वीडियो यहां देखें

दरअसल जीप का चालक वहां जेब्रा क्रॉसिंग में गाड़ी घूमा रहा था।
इसी दौरान वह तेज गति से आ रही बस की चपेट में आ गया।
बस की जोरदार टक्कर में गाड़ी के परखच्चे उड़ गये।

कमांडर गाड़ी में सभी मजदूर सवार थे जो सिकीदिरी थाना क्षेत्र के
हुन्दुरु फॉल आसपास के गांवों के ग्रामीण थे। यह सभी अपनी
रोजी-रोटी की जुटान के लिए घर से निकले थे।

मजदूरों को ढ़लाई के काम के लिए कांके प्रखंड के वेयना गांव जाना था।

कमांडर गाड़ी में 13 मजदूर सवार थे। जिसमें 4 महिला मजदूर ब्लॉक
चौक स्थित निजी मकान के काम के लिए ठेकेदार उतार दिया था।

चार मजदूरों को उतारने के बाद कमांडर विपरीत दिशा से आ रही थी।
इसी दौरान यह हादसा हुआ।

घटना की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी इंस्पेक्टर श्याम किशोर
महतो सिल्ली डीएसपी चंद्रशेखर आजाद और पुलिस टीम मौके
पर पहुंची और घायलों को हॉस्पिटल पहुंचाया।

और घटना पर उत्पन्न स्थिति को संभाला और बस को अपने कब्जे
में लेकर सुरक्षित थाना ले गए।

ओरमांझी के पास आक्रोशित भीड़ बस को जलाने पर आमादा थी।

सड़क दुर्घटना के चलते एक घंटा तक मुख्य मार्ग बाधित रहा जिसे
प्रशासन द्वारा दुरुस्त किया गया

पेट की भूख मिटाने के लिए घर से निकले थे

अपने बाल बच्चों और अपने पेट की भूख को मिटाने के लिए सुबह
घर से निकले मजदूरों को शायद यह मालूम नहीं था कि आज उनका
अंतिम होगा। हंसी खुशी अपने घर से निकले थे जैसे ही चकला मोड़
पहुंचे थे मजदूर और ये घटना घटी गाड़ी में सवार थे।

कमलेश बेदिया ,रतन कुमारी, जानकी देवी, बबिमता देवी, डोमन

माई, मनिसा कुरमी, मुनिया मयी, व चालक दयानंद बेदिया ,

ज्योति कुमारी।

सड़क दुर्घटना में जिन लोगों की हुई मौत

मृतकों में कमांडर गाड़ी के चालक दयानंद बेदिया, कमलेश बेदिया,

रत्न कुमारी, मनीषा कुमारी शामिल है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply

Open chat
Powered by