Press "Enter" to skip to content

कसमार के भुरसाटांड में अधेड़ की पत्थर से कुचलकर की हत्या

Spread the love



  • मृतक के बडे पुत्र ने 18 लोगों पर लगाया नामजद आरोप

  • पुलिस चार लोगों को थाने में लाकर कर रही पुछताछ

बोकारो/कसमार: कसमार थाना क्षेत्र के मुरहूलसूदी पंचायत अंतर्गत भूरसाटांड़ गांव निवासी




सुकदेव गंझु (55वर्ष) की हत्या पत्थर से कुचल कर दी। घर से लगभग तीन किलोमीटर दूर

बोरवाडोहर जंगल में सुखदेव की शव मिली है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार सुबह जब

चरवाहे जंगल की ओर गए तो देखा कि सुकदेव का शव नाले में पड़ा हुआ है। हत्यारों ने शव के

पीट के ऊपर एक पत्थर रख दिया था। शव का चेहरा व सिर को पत्थर से कुचल दिया गया था।

घटना स्थल से पुलिस ने एक गमछा, एक कुल्हाड़ी व पत्ते पर खून लगा मिला था। जिसे

पुलिस ने बरामद किया है। मृतक के बड़े पुत्र जुलेश गंझू ने गांव के ही उपर टोला के 18 लोगों के

खिलाफ हत्या करने का आरोप लगाते हुए कसमार थाने में नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गई

है। इधर, कसमार पुलिस ने भुरसाटांड गांव उपर टोला के चार लोगों को थाने में लाकर पूछताछ

कर रही है। प्राथमिकी दर्ज के अनुसार मृतक सुखदेव गंझु का पूर्व से ही गांव के ऊपर टोला के

कुछ लोगों से किसी बात को लेकर वाद विवाद चल रहा था। मृतक के पुत्र वधू सुमित्रा देवी के

अनुसार सुखदेव गंझु राजमिस्त्री का काम करते थे। काम नहीं रहने पर मवेशी चराने के लिए




जंगल जाया करते थे। शुक्रवार को सुबह लगभग सात बजे वे मवेशी लेकर जंगल गये थे।

लेकिन देर शाम को वापस नहीं लौटे।

कसमार के चरवाहों ने शव को नाले पर पड़ा हुआ देखा

घर वापस नहीं आने पर शनिवार सुबह को जब गांव के कुछ चरवाहे जंगल गए थे। तो देखा कि

सुकदेव का शव एक नाले में पड़ा हुआ है। इसकी जानकारी चरवाहों ने सुखदेव के परिजनों को

दी। मृतक के परिजनों ने जनप्रतिनिधि एवं कसमार थाने को घटना की सूचना दी। सूचना

पाकर कसमार थाना प्रभारी राजेंद्र चैधरी व जरीडीह इंस्पेक्टर मो. रुस्तम अंसारी, एएसआई

उमेश कुमार सिंह, छत्री एवं पुलिस बल के साथ मृतक के घर पहुंचे। इससे पूर्व ही परिजनों ने

बरवाडोहर जंगल से शव को अपने घर ले आया था। इधर शव को पुलिस कब्जे में लेकर

पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। भेजने बाद पुलिस घटना की छानबीन करने जंगल स्थित

घटना स्थल भी पंहुची और अनुसंधान तेज कर दीं हैं।

[subscribe2]



More from अदालतMore posts in अदालत »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply