fbpx Press "Enter" to skip to content

सीसीएल आवासी कॉलोनी में कार्यालय अधीक्षक पर हमला

बेरमोः सीसीएल आवासीय कॉलोनी में कार्यालय अधीक्षक के पद पर कार्यरत सुरज लाल

तुरी पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। सीसीएल कथारा कोलियरी दो नंबर चिल्ड्रेन पार्क

स्थित दो नंबर आवासीय कॉलोनी क्वाटर संख्या-एमक्यू/ 158 में रह रहे कर्मी सह कथारा

वाशरी परियोजना कार्यालय में कार्यालय अधीक्षक के पद पर कार्यरत सुरज लाल तुरी(46)

को कॉलोनी से सटे सीसीएल भूमि पर मकान बनाकर रह रहे फल,आइसक्रीम, कॉस्मैटिक

दुकान चला रहे व्यवसायी प्रमोद वर्मा, सुबोध वर्मा, सुनील वर्मा पिता छोटन वर्मा सभी ने

मिलकर तेज हथियार व लाठी,डंडों से बीते शाम वार कर बुरी तरह जख्मी कर दिया एवं

उसे बेहोशी हालत में छोड़कर सभी फरार हो गए। घायलावस्था में परिवार वालों ने उसे

तुरंत उठाकर निकट सीसीएल कथारा क्षेत्रीय अस्पताल लाया गया यहां डॉ बीके झा के

देखरेख में प्राथमिक ईलाज के बाद बेहतर ईलाज के लिए सीरियस हालत में बोकारो स्थित

मुस्कान अस्पताल रेफर कर दिया गया। घायल कर्मी के सर पर गंभीर चोट जिसमें छह-

सात स्टिच एवं पेट,पीठ में बुरी तरह जख्म के निशान है। घटना देर शाम लगभग साढ़े

छह-सात बजे की है। घटना के संबंध में सूत्रों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार घायल

कर्मी के आवासीय क्वार्टर से सटे व्यवसायी प्रमोद वर्मा,सुबोध वर्मा सभी संयुक्त परिवार

प्राइवेट मकान बनाकर रहते हैं, ये सभी मकान के गली में क्वाटर से सटाकर फल विक्रेता

के परिवार वालों ने फल,आइसक्रीम का ठेला खड़ा कर रखे थे। जिसे अंदर बाहर निकलने

में इन्हें एवं अन्य कॉलिनी कर्मियों को अक्सरा दिक्कतों का सामना करना पड़ता था आज

भी शाम इसी बात को लेकर घायल कर्मी के साथ गाली गलौज हुई ओर उतेजित व्यवसायी

के पिता भाइयों ने मिलकर बुरी तरह मारकर जख्मी कर दिया ओर सभी भाग गए।

सीसीएल आवासीय कॉलोनी की सूचना पर पुलिस पहुंची

इधर घटना की सूचना कथारा ओपी पुलिस को दिए जाने के बाद थाना प्रभारी युधिष्ठिर

महतो एएसआई केएन पाठक सस्त्र बलों के साथ कथारा अस्पताल पहुंचकर मामले की

जाँच पड़ताल कर रही है। थाना प्रभारी ने बताया कि जांच, पड़ताल के बाद दोषी

अभियुक्तों पर पुलिस सख्त करवाई करेगी। इधर घटना के सुबह सीसीएल सुरक्षा प्रभारी

रामनाथ राय दल बल के साथ तथा कथारा ओपी पुलिस के सहयोग लेकर आरोपीयो के

आवास पर पहुचे और अवैध रूप से बनाये गये मकान को खाली करने के साथ साथ

कालोनी आने जाने वाले मुख्य रास्ते पर जबरन बनाये गये दुकान को दो घंटे के भितर

हटाने का आदेश दिया नही तो बल पुर्वक उस दुकान को हटाने का काम किया जायेगा।

इधर आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर ओपी प्रभारी युधिष्ठिर महतो ने बताया कि

एफआईआर दर्ज होते ही आरोपियों की धर पकड़ शुरू कर जेल भेजने का कार्य आरंभ हो

जायेगा जबकि स्थानीय कुछ लोगो ने बताया कि सभी घटना के आरोपी दबंग प्रवृत्ति के

है। कालोनी के लगभग सभी लोगो से इस परिवार का किसी ना किसी बात को लेकर

झगड़ा हो चुका है। ऐसे बताते चले कि कुछ चाटुकार लोग आरोपी को बचाने की प्रक्रिया में

जुटे दिख रहे हैं।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »

2 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat