fbpx Press "Enter" to skip to content

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट की वजह से बढ़ा तनाव

  • डांट फटकार व चेतावनी देकर छोड़ा गया युवक को
  • फेसबुक पर ही उससे लिखवाया माफीनामा
  • दोहराया तो होगा कानूनी कार्रवाई

जारंगडीहः सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट की वजह से एक मनचले युवक की

परेशानी बढ़ गयी थी। इस युवक ने दरअसल सीधे झारखंड के मुख्यमंत्री के खिलाफ

अपशब्दों का प्रयोग करते हुए यह पोस्ट डाला था। इस पोस्ट पर नजर जाते ही स्थानीय

झामुमो नेताओं और कार्यकर्ता भड़क उठे थे। मगर जेएमएम के प्रखंड सचिव गणेश

श्रीवास्तव ने सूझबूझ से मामले का निष्पादन कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार

आपति जनक पोस्ट करने वाला युवक जारंगडीह का निवासी है और इसका नाम दीपक

कुमार बताया जाता है। यह युवक मनचला व मनबड़ु युवक बताया जाता है। इसने बीते

दिनों फेसबुक पर एक पोस्ट डाला जिसमे लिखा कि सीएम बनना है तो योगी जैसा बनो,

पीएम बनना है तो मोदी जैसा बनो, अगर दोग—(अभद्र शब्दो) बनना है तो झारखंड

सरकार जैसा बनो, बीसी हिन्दू लिखने मे भी दिक्कत होता है। यह पोस्ट होते ही क्षेत्र के

झामुमो नेताओं व कार्यकतार्ओं मे भारी आक्रोश फैल गया। मौके की नजाकत को देखते

हुए पार्टी के एक समझदार नेता जारंगडीह पहुच उस युवक को बुला कर जमकर फटकार

लगाया और चेतावनी देकर यह कहते हुए छोड़ दिया कि अभी के अभी उसी फेसबुक

एकाउंट पर मुख्यमंत्री के नाम माफीनामा लिखो और अगर दुबारा इस तरह के विवादीत

पोस्ट किया तो उसके विरुद्ध कठोर व कानुनी कार्यवाही की जायेगी। बहरहाल मामला

सुलझ गया मगर जिस तरह युवाओ मे इस तरह के पोस्ट का प्रचलन बढ़ा है अगर समय

रहते पुलिस, प्रशासन व साइबर सेल ने सख्ती नही बरती तो निश्चित ही इसी तरह के

पोस्ट के कारण क्षेत्र की विधि व्यवस्था भंग हो सकती है।

सोशल मीडिया पर ऐसे पोस्टों से अक्सर स्थिति बिगड़ती है

फेसबुक अथवा व्हाट्सएप पर भी इस किस्म का तनाव पैदा करने वाले पोस्ट अनेक बार

परेशानी पैदा कर चुके हैं। इस बारे में स्पष्ट कानूनी प्रावधान होने के बाद भी जब कार्रवाई

का वक्त आता है तो पोस्ट करने वालों के बचाव में अनेक लोग उतर आते हैं। इस एक

पोस्ट की वजह से जो सामाजिक सद्भाव बिगड़ता है, उसकी जिम्मेदारी कोई नहीं लेता।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply

Open chat