fbpx Press "Enter" to skip to content

विराट को अब मिलेगा विश्वकप क्रिकेट की तैयारी का पूरा मौका




नयी दिल्ली : विराट कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू आईपीएल-12 के प्लेऑफ में पहुंचने में नाकाम रही

लेकिन इस नाकामी के बीच भारतीय क्रिकेट के लिये अच्छी खबर यह है कि विराट को

अब विश्वकप तैयारी के लिये ज्यादा समय मिलेगा।

आईपीएल का 12वां संस्करण 12 मई को समाप्त होना है जबकि विश्वकप की शुरूआत 30 मई से इंग्लैंड में होनी है।

भारत का पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 जून को साउथम्पटन में होना है।

विश्वकप में भारत की सबसे बड़ी उम्मीद कप्तान और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज विराट हैं।

यदि बेंगलुरू टीम प्लेऑफ में पहुंचने में कामयाब रहती तो विराट को 12 मई तक आईपीएल में व्यस्त रहना पड़ सकता था।

लेकिन कल दिल्ली में दिल्ली कैपिटल्स के हाथों 16 रन से हार के बाद

बेंगलुरू टीम प्लेऑफ की होड़ से बाहर हो गयी है।

बेंगलुरू को अब 30 अप्रैल को राजस्थान रायल्स से और 4 मई को सनराइजर्स हैदराबाद से खेलना है।

इस तरह 4 मई को विराट का आईपीएल में अभियान समाप्त हो जाएगा।

विराट के पास विश्वकप में अपने पहले मैच की तैयारी के लिये पूरे 31 दिनों का समय रहेगा।

विराट के साथ साथ बेंगलुरू टीम में शामिल लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को भी

विश्वकप तैयारी के लिये अपने कप्तान जितना समय मिलेगा।

बेंगलुरू टीम में तेज गेंदबाज नवदीप सैनी शामिल हैं जो भारतीय टीम के साथ अभ्यास के लिये इंग्लैंड जाएंगे।

भारतीय कप्तान ने आईपीएल में अब तक 12 मैचों में 35.25 के औसत और 134.71 के

स्ट्राइक रेट से 423 रन बनाये हैं जिनमें एक शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं।

विराट ने इस आईपीएल में 6, 46, 3, 23, 84, 41, 67, 8, 100, 9, 13 और 23 के स्कोर किये हैं।

उनके आईपीएल टीम साथी चहल ने 12 मैचों में 16 विकेट लिये हैं

और वह सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में तीसरे स्थान पर है।

आईसीसी के वार्षिक पुरस्कारों में प्लेयर ऑफ द ईयर, टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर

और वनडे प्लेयर ऑफ द ईयर रह चुके विराट के कंधों पर भारत को विश्वकप जिताने की भारी जिम्मेदारी है।

इन पुरस्कारों में आईसीसी ने विराट को अपने टेस्ट और वनडे टीमों का कप्तान भी बनाया था।

भारत दो साल पहले विराट की कप्तानी में इंग्लैंड में हुयी आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचा था

जहां उसे पाकिस्तान से हार का सामना करना पड़ा था।

विराट की कप्तानी की बड़ी उपलब्धियों में दक्षिण अफ्रीका, आस्ट्रेलिया

और न्यूजीलैंड में वनडे सीरीज जीतना शामिल हैं।

बल्लेबाजी में लगातार नये कीर्तिमान स्थापित कर रहे विराट ने अब तक 227 मैचों में 10843 रन बनाये हैं

जिनमें 41 शतक और 49 अर्धशतक शामिल है। वह वनडे में सर्वाधिक रन बनाने वाले

भारतीय बल्लेबाजों में सचिन तेंदुलकर(18426) और सौरभ गांगुली(11221) के बाद तीसरे स्थान पर है।

लेकिन वनडे शतक बनाने में वह विश्व रिकार्डधारी सचिन के बाद दूसरे स्थान पर है।

सचिन के 49 और विराट के 41 शतक हैं। भारत ने विराट की कप्तानी में

अब तक 68 मैचों में 49 मैच जीते हैं और उनका सफलता प्रतिशत 73.88 है।

यह प्रतिशत दिखाता है कि विराट की कप्तानी में भारतीय टीम ने

पिछले कुछ सालों में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है

जिससे यह टीम विश्वकप के खिताब के दावेदारों में शामिल हो गयी है।



Rashtriya Khabar


Be First to Comment

Leave a Reply

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com