Press "Enter" to skip to content

किसानों की मर्जी के खिलाफ कोई फैसला नहीं होगा: टिकैत




वादे पूरे नहीं हुए तो फिर हो सकता है किसान आंदोलन
जयपुर के अलावा भरतपुर में भी यही बात कही
विरोध तो किसानों ने केंद्र सरकार का किया था

जयपुर: किसानों की मर्जी के खिलाफ अब देश में कोई फैसला नहीं होगा। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि किसान और नौजवान अब जाग चुका है और अब किसान की मर्जी के खिलाफ कोई फैसला नहीं होगा श्री टिकैत आज यहां पांचवां महाराजा सूरजमल अंतरराष्ट्रीय जाट प्रतिभा सम्मान समारोह में बोल रहे थे।




उन्होंने पार्टी और सरकार को अलग अलग बताते हुए कहा कि कोई मुख्यमंत्री या प्रधानमंत्री अपनी पार्टी के बैनर पर लाभ देने की घोषणा करते हैं तो उसका विरोध किया जायेगा। उन्होंने कहा कि गलत काम का विरोध होगा और जो देश को बांटने का काम करेगा, हम उसका विरोध करेंगे।

उन्होंने कहा कि उनका किसी पार्टी के प्रति कोई विरोध नहीं है, उनका जो विरोध था वह केन्द्र सरकार के खिलाफ था। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन के दौरान पिछले दिनों केन्द्र सरकार के खिलाफ तेरह महीने ट्रेनिंग की गई। उन्होंने कहा कि वे नहीं चाहते कि देश का प्रधानमंत्री माफी मांगे क्योंकि इससे देश की साख खराब होती है। उन्होंने कहा कि अब किसान की मर्जी के खिलाफ कोई फैसला नहीं होगा।

पूरे देश को बेचना चाह रहे हैं लेकिन बिकने नहीं दिया जायेगा। उन्होंने आंदोलन के दौरान देश के लोग वैचारिक रूप से किसान के साथ खड़े थे। देश का जवान भी किसान के साथ खड़ा था। श्री टिकैत ने कहा कि किसान संयुक्त मोर्चा देश में हर चीज पर नजर रख रहा है और देश की संपत्ति को बिकने नहीं दिया जायेगा।




उन्होंने कहा कि निजीकरण का भी विरोध किया जायेगा। उन्होंने कहा कि निजीकरण से बेरोजगारी बढ़ेगी, इसलिए इसका विरोध होगा। उन्होंने कहा कि गुजरात में तो पुलिस का भी निजीकरण कर दिया गया है। यह है गुजरात मॉडल।

किसानों की मांगे पूरी नहीं हुई तो फिर आंदोलन प्रारंभ होगा

भरतपुर में राकेश टिकैत ने कहा है कि किसान आंदोलन अभी खत्म नहीं हुआ है यदि तय समय पर किसानों से किए गए वादे पूरे नहीं किए तो आंदोलन फिर शुरू हो सकता है। श्री टिकैत ने कहा कि केंद्र सरकार ने सिर्फ तीन कृषि कानून ही रद्द कर उन्हें वापिस लिया है लेकिन किसान संगठनों की अन्य मांगें अभी नहीं मानी गई हैं।

उन्होंने एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर भी तंज कसते कहा है कि ओवैसी भाजपा से भी ज्यादा खतरनाक हैं। लोगों को उनसे सावधान रहना चाहिए। उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर टिकैत ने दावा किया कि यूपी का किसान उसे ही वोट देगा जो उसे फायदा देगा। उन्होंने यह भी कहा कि किसान यूनियन ने उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर अभी कोई निर्णय नहीं किया है। आचार संहिता लगने के बाद समर्थन को लेकर फैसला किया जाएगा।



More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.