fbpx Press "Enter" to skip to content

उत्तर बंगाल के घरों में इस बार कोरोना पीठा की धूम

  • कई किस्म के प्रतिरोधकों से तैयार हुआ पकवान

राष्ट्रीय खबर

जलपाईगुड़ीः उत्तर बंगाल में मकर संक्रांति का पर्व धूमधाम से मनाया गया। वैसे इस बार

इस त्योहार की विशेषता कोरोना पीठा ही रहा। इलाके में इस खास किस्म का पीठा सिर्फ

कोरोना को ध्यान में रखते हुए बनाया गया था। यहां की परंपरा के मुताबिक सासों ने

अपने अपने दामादों को इस बार यही कोरोना पीठा परोसा। इस पीठा में पारंपरिक पकवान

से थोड़ी भिन्नता थी। इस बार पीठा में तुलसी, लवंग सहित अन्य वैसे आयुर्वेदिक मिश्रण

भी डाले गये थे जो आम तौर पर कोरोना संक्रमण के खिलाफ इंसानी प्रतिरोधक क्षमता को

बढ़ाते हैं। इसी वजह से इस बार पूरे उत्तर बंगाल में कोरोना पीठा की अधिक चर्चा भी रही।

प्रचलित पीठा से इसकी बनावट इसबार थोड़ी भिन्न थी। कोरोना गाइड लाइन और बचाव

के प्रावधानों का पालन करते हुए ही इसे तैयार किया गया था। मालपुआ के आकार में

तैयार पीठा में आम तौर पर ढेकी में कूटा गया चावल इस्तेमाल होता है। उसमें आम

मिष्टान्न के जैसा ही सूजी, चीनी इत्यादि मिलाये जाते हैं। इस बार पारंपरिक मिठाई में

तुलसी, लवंग सहित कुछ ऐसे प्राकृतिक उपज भी डाले गये तो अब तक कोरोना के

खिलाफ प्रतिरोधक शक्ति बढाने वाले समझे गये हैं।

उत्तर बंगाल के इस बदलाव की भी जानकारी मिली

एक गृहवधु शेफाली राय ने इस बारे में पूछे जाने पर परंपरा में कोरोना की वजह से हुए

बदलाव की जानकारी भी दी। उन्होंने कहा कि सभी जानते हैं कि कोरोना का संकट

समाप्त नहीं हुआ है। इसी वजह से घर के लोगों और आने वाले अन्य अतिथियों को जो

पीठा परोसा गया, वह प्रचलित पीठा से अलग था। इसमें तुलसी के पत्ते, लबंग, गोलमिर्च,

दारचीनी जैसी चीजों को मिलाया गया है। यह सभी किसी न किसी रुप में कोरोना के

खिलाफ इंसान की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाले हैं। वैसे पीठा बनाने, परोसने और

खाने के दौरान भी मास्क और एक दूसरे से पर्याप्त दूरी का ख्याल रखते हुए ही मकर

संक्रांति और यहा की परंपरा में पौष का पर्व नये तरीके से मनाया गया। उनके दामाद

निखिल को भी इस नये किस्म का पीठा पसंद आया है। दामाद का कहना है कि इन सभी

के मिश्रण से तैयार पीठा की महक ही निराली है। कोई भी व्यक्ति दूर से समझ सकता है

कि इस घर में कुछ अच्छा पकवान बना है

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »
More from भोजनMore posts in भोजन »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: