Press "Enter" to skip to content

नीतीश कुमार ने तो पूरे बिहार को ही अपना परिवार माना है- जमा खान




मेरे ऊपर माता पिता का आशीर्वाद हमेशा रहा है
अल्पसंख्यक बच्चों को आगे बढ़ा रही है सरकार
पूरे राज्य को समझने के बाद योजना लागू करूंगा
दीपक नौरंगी

भागलपुरः नीतीश कुमार ने तो जो उदाहरण स्थापित किया है, वह एक आदर्श उदाहरण है। उस नेता ने अपने या अपने परिवार के लिए कुछ नही किया जबकि पूरे प्रदेश को ही अपना परिवार मानकर सभी वर्गों के लिए समान रुप से काम किया।




यह बयान बिहार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री जमा खान का है। वह सरकारी दौरे पर भागलपुर आये थे। छात्र राजनीति से विधायक बने और अगली सीढ़ी में बिहार के मंत्री बने जमा खान अपनी जमीन को नहीं भूले हैं।

वीडियो में देखिये मंत्री जमा खान ने क्या कुछ कहा

उन्होंने बतौर मंत्री अपने भागलपुर दौरे पर राष्ट्रीय खबर से विशेष बातचीत में कहा कि वह एक गरीब और किसान परिवार से आते हैं।

उन्होंने कहा कि राजनीति में उनकी सफलता का श्रेय माता पिता को ही जाता है। दोनों ने ही समाजसेवा के उनके जज्बे को देखते हुए उनका पूरा समर्थन किया।

जिसकी बदौलत वह आज इस मुकाम तक पहुंच पाये हैं। उनके मुताबिक किसी भी विधा में सफल होने के लिए माता पिता का आशीर्वाद बड़ा काम आता है और वह सौभाग्यशाली हैं कि उनके अभिभावकों का आशीर्वाद उनके साथ हमेशा रहा है।

बिहार में मंत्री बनने के बाद अपनी भूमिका के बारे में उन्होंने कहा कि यह श्रेय तो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जाता है, जिन्होंने उनकी पहचान कर उन्हें यह जिम्मेदारी सौंपी।

इस जिम्मेदारी के बाद विकास में हर व्यक्ति को उसका लाभ मिले, उसके बारे में उनके अपना दिमाग में जो अवधारणा है, वह उसी पर काम कर रहे हैं।




इस क्रम में श्री खान ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री को अब दूसरे राज्यों के लोग फॉलो करते हैं। साथ ही यह भी सर्वविदित है कि उन्होंने कभी भी परिवार वाद को बढ़ावा नहीं दिया। इसलिए उनकी पूरे देश में अलग छवि है।

नीतीश कुमार ने पूरे देश में अलग छवि बनायी है

अपनी भावी योजनाओं को धरातल पर उतारने के पहले वह पूरे राज्य का गहन दौरा कर लेना चाहते हैं। उनके मुताबिक सरजमी पर समस्याओं का सीधा आकलन कर लेने के बाद किस योजना को कैसे लागू किया जाना है और इलाके विशेष पर कैसे इस पर ध्यान देना है, यह वह पहले अच्छी तरह समझ लेना चाहते है।

श्री खान ने कहा कि अल्पसंख्यकों के लिए नीतीश कुमार ने जो कुछ किया है, वह पहले किसी ने नहीं किया। इसी प्रयास का परिणाम है कि अब अल्पसंख्यक समुदाय के युवक युवतियां तेजी से आगे और सरकारी नौकरी में आने लगी हैं।

इनके लिए अलग से मुफ्त कोचिंग की योजना का लाभ भी मिला है इसलिए पांच अन्य स्थानों पर ऐसी ही कोचिंग और प्रारंभ की जाने वाली है।

अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री जमां खान ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री से अन्य लोगों को भी सीखने की जरूरत है। जिस तरीके से मुख्यमंत्री ने पूरे राज्य को अपना परिवार मानकर काम किया है, यदि यही भावना दूसरों में आ गयी तो एक बहुत बड़ी बात होगी।

मंत्री बनने के बाद भी अपने इलाके की समस्याओं पर श्री खान का पूरा ध्यान रहा है। वहां सिंचाई के अलावा सड़क सुधारने का काम प्रगति पर है।

साथ ही उन्होंने कहा कि पहले टावर नहीं होने की वजह से अनेक इलाकों में मोबाइल काम नहीं करता था। अब जिओ से बात होने के बाद तीन टावर लगने जा रहे हैं। शीघ्र ही पूरे इलाके की पूरी दशा ही बदलने जा रही है।



More from एक्सक्लूसिवMore posts in एक्सक्लूसिव »
More from भागलपुरMore posts in भागलपुर »
More from राज काजMore posts in राज काज »

Be First to Comment

Leave a Reply