fbpx Press "Enter" to skip to content

नीतीश कुमार का करीबी विजय सिंह पलामू से गिरफ्तार

  • 10 हजार लीटर अवैध स्प्रिट व साढ़े 9 लाख रुपये बरामद

  • जदयू से संबंध की चर्चा होने के बाद से सियासत तेज

पटना : नीतीश कुमार का करीबी होने की वजह से विजय सिंह को लोग जानते हैं। पहली

बार उनके बारे में शराब माफिया होने का आरोप लगा है। दरअसल नीतीश कुमार के

करीबी विजय सिंह पटेल को पांच अंतरराज्यीय शराब तस्करों के साथ झारखंड पुलिस

द्वारा गिरफ्तार करने के बाद राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है। उनको पलामू पुलिस ने

10 हजार लीटर अवैध स्प्रिट के साथ गिरफ्तार कर लिया है। गिरोह से पुलिस ने करीब

साढ़े नौ लाख रुपये भी बरामद किए हैं। वैसे बिहार के सत्तारूढ़ दल जदयू ने विजय सिंह

पटेल से अपने करीब होने के संबंधों से इनकार कर दिया है। लेकिन अन्य राजनीतिक दलों

ने इसको गंभीरता से लिया है। झारखंड पुलिस के अनुसार गिरफ्तार होने वाले आरोपियों

में मुजफ्फरपुर के काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के विजय सिंह पटेल, सौरभ कुमार, अजय

कुमार, गया जिले के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के मानपुर निवासी रविरंजन सिंह तथा

भागलपुर के असरगंज थाना के वंशीपुर निवासी सोमित कुमार है। यह लोग बिहार में

शराबबंदी होने के बाद से ही पड़ोसी झारखंड से बड़ी मात्रा में शराब अवैध रूप से बिहार ले

जाकर बेच रहे थे। मेदिनीनगर टाउन थाने की पुलिस ने शहर के वार्ड-1 स्थित सिंगरा

मुहल्ला से आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से 9.30 लाख रुपये नकद,

12 मोबाइल फोन और हरियाणा नंबर की फार्चुनर गाड़ी भी जब्त की गई है। मेदिनीनगर

सदर के एसडीपीओ के विजय शंकर ने बताया कि पांचों लोगों गिरफ्तार किया गया।

विजय को बिहार पुलिस को सौंपने व शेष चारों को न्यायिक हिरासत में भेजे जाने की

तैयारी की जा रही है। विजय पर शराब मामले में पांच केस दर्ज हैं।

नीतीश कुमार का करीबी लेकिन पांच केस दर्ज हैं

विजय का संबंध बिहार के प्रमुख राजनीतिक दल जदयू से होने की बात आ रही है।क्योंकि

जदयू के शीर्ष नेताओं के स्तर से उसको छुड़ाने के लिए रात भर जमकर प्रयास किया गया,

लेकिन उसे झारखंड पुलिस और झारखंड सरकार ने ठुकरा दिया। विजय सिंह व उसके गैंग

के लोग स्प्रिट की ढुलाई के लिए हाईवा खरीदने की तैयारी में थे। वे लोग भाड़े की हाईवा से

बिहार में शराब मंगवाते थे। पुलिस को पूछताछ में बताया गया कि परेशानी से बचने के

लिए ये लोग अपना दो हाईवा खरीदने की तैयारी कर रहे थे। पलामू पुलिस के अलावा

स्थानीय पुलिस पुलिस विजय सिंह की संपत्ति को खंगालने में जुट गई है। झारखंड के

पलामू में उसकी गिरफ्तारी के बाद जिला पुलिस ने उसके नेटवर्क व संपत्तियों को खंगाला

शुरू कर दी है। बताया गया कि बोचहां में अपने रिश्तेदार को शराब के धंधे के अलावा

स्थानीय राजनीति में पैठ बनाने के लिए जदयू को आर्थिक रुप से मदद करता था।

फिलहाल उसका रिश्तेदार हत्या के केस में जेल में बंद है। उसकी पत्नी जनप्रतिनिधि है।

शहर के माड़ीपुर समेत कई इलाकों में उसके करोड़ों रुपये की जमीन व मकान होने की

बात सामने आयई है। बताया गया कि वह बरूराज से चुनाव लड़ने की तैयारी में था। वह

एक सत्तारूढ़ राजनीतिक पार्टी का चुनाव चिह्न इस्तेमाल करता था। पुलिस सभी अन्य

मामलों में आरोपित को रिमांड लेने की तैयारी कर रही है। इस मामले में कारवाई के लिए

पीरो थाना पुलिस पलामू के लिए रवाना हो गई है। फिलहाल कोरोना संकट को लेकर जिला

पुलिस की टीम को दूसरे राज्य में नहीं भेजी जा रही है। शराब के अंतर राज्यीय गिरोह का

भी पता लगाया जा रहा है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »

One Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: