fbpx Press "Enter" to skip to content

न्यूजीलैंड ज्वालामुखी फटने में मृतकों की संख्या पांच हुई

वेलिंगटनः न्यूजीलैंड में ज्वालामुखी विस्फोट की खबर आयी है। यहां के व्हाइट द्वीप

पर सोमवार को ज्वालामुखी फटने से मरने वालों की संख्या पांच हो गई है और आठ

लोग लापता हैं। पुलिस ने मंगलवार को मृतकों की संख्या की पुष्टि करते हुए कहा कि

अब तक 34 लोगों को बचाया गया है जिनमें से 31 लोग उपचार के लिए अस्पताल में

भर्ती हैं।

विस्फोट के वक्त साफ नजर आये थे फंसे हुए पर्यटक

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार घायल और लापता लोगों में न्यूजीलैंड के नागरिकों के

अलावा ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, ब्रिटेन तथा मलेशिया के पर्यटक भी शामिल हैं जो

यहां घूमने के लिए आये थे।

इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ऑस्ट्रलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मोर्रिसीन

ने कहा कि उन्हें आशंका है कि पांच मृतकों में से तीन ऑस्ट्रेलियाई नागरिक हैं।

न्यूजीलैंड की प्रधानमन्त्री जैकिंडा अर्डर्न ने मृतकों के परिजनों के प्रति सांत्वना व्यक्त

की है। उन्होंने कहा कि द्वीप पर हादसे से कुछ समय पहले कई पर्यटकों को देखा गया

था। मौके से सुरक्षित निकाले गये लोगों को नावों और हेलीकाप्टर की मदद से द्वीप से

दूर ले जाया गया।

वैसे स्थानीय पुलिस ने इस मामले की जांच की घोषणा की है। ऐसा इसलिए किया जा

रहा है क्योंकि इस हादसे में लोग मारे गये हैं। इस ज्वालामुखी विस्फोट के बारे में पता

चला है कि पिछले सप्ताह की इस ज्वालामुखी में सक्रियता देखी गयी थी।

उसके बाद वहां सतर्कता के आदेश भी जारी कर दिये गये थे।

इसके बाद भी वहां पर्यटकों को जाने की छूट क्यों दी गयी, इसकी भी जांच की जाएगी।

न्यूजीलैंड के समुद्र में मौजूद पर्यटकों को जान बचाकर भागना पड़ा

इस घटना के वक्त वहां समुद्र में नाव पर कुछ पर्यटक भी मौजूद थे।

उनमें से कुछ लोगों ने इस पूरी घटना की फिल्म भी बनायी है।

हालांकि इस विस्फोट के बाद उनकी तरफ आते राख के ढेर को भांपते हुए नाव का

चालक तेजी से नाव को भगाकर दूर ले गया।

इससे नाव पर सवार लोगों की जान बच पायी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पर्यावरणMore posts in पर्यावरण »
More from विज्ञानMore posts in विज्ञान »
More from हादसाMore posts in हादसा »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!