fbpx Press "Enter" to skip to content

नवनिर्मित केंद्र शासित राज्य लद्दाख के लेह में आदि महोत्सव कल से




नयी दिल्लीः नवनिर्मित केंद्र शासित राज्य लद्दाख के लेह में कल से आदि महोत्सव का आयोजन किया जाएगा

जिसमें जनजातीय समूहों के लिये चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं के प्रदर्शन के अलावा

लोककला तथा क्षेत्रीय संस्कृति का प्रस्तुतीकरण होगा।

केंद्रीय जनजातीय मंत्रालय ने आज यहां बताया कि आदि महोत्सव नौ दिन का होगा

और 25 अगस्त तक चलेगा।

इसका उद्घाटन जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक करेंगे।

इस अवसर पर केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा, जनजातीय कार्य राज्य मंत्री श्रीमती रेणुका सिंह और भारतीय जनजातीय सहकारी विपणन विकास संघ (ट्राइफेड) के अध्यक्ष आर.सी. मीणा भी उपस्थित रहेंगे।

महोत्सव का विषय ‘जनजातीय कला, संस्कृति और वाणिज्य की भावना का उत्सव’ है।

इसमें ट्राइफेड ‘सेवा प्रदाता’ एवं ‘मार्केट डेवलपर’ की भूमिका निभाएंगा।

इसमें देश भर के 20 से ज्यादा राज्यों के लगभग 160 जनजातीय कारीगर भाग लेंगे और अपनी उत्कृष्ट कारीगरी का प्रदर्शन करेंगे।

इस दौरान प्रदर्शित किए जाने वाले उत्पादों में राजस्थान, महाराष्ट्र, ओड़िशा, पश्चिम बंगाल से

जनजातीय वस्त्र, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश और पूर्वोत्तर से जनजातीय आभूषण,

मध्य प्रदेश से गोंड चित्रकला जैसी जनजातीय चित्रकारी, महाराष्ट्र से वार्ली कला,

छत्तीसगढ़ से धातु शिल्प, मणिपुर से ब्लैक पॉट्री और उत्तराखंड, मध्य प्रदेश

और कर्नाटक से जैविक उत्पाद शामिल हैं।

इस आयोजन के दौरान दो प्रतिष्ठित स्थानीय सांस्कृतिक समूह लद्दाखी लोक नृत्य ‘जाबरो नृत्य’ और ‘स्पाओ नृत्य’ प्रस्तुत करेंगे।

नवनिर्मित केंद्र शासित राज्य के सांसद फिर सोशल मीडिया पर छाये

लद्दाख के भाजपा सांसद इससे पहले लोकसभा में अपने बयान की वजह से चर्चा में आये थे।

उस दौरान भी सोशल मीडिया पर उनके भाषण का वीडियो वायरल हुआ था।

इस बार स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उन्हें फिर से नाचते हुए देखा गया है।

सोशल मीडिया पर उनके डांस का वीडियो भी नये सिरे से वायरल हो गया है।

उन्होंने केंद्र सरकार के इस फैसले को लद्दाख की जनता के हित में बताते हुए जोरदार भाषण लोकसभा में दिया था।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •