fbpx Press "Enter" to skip to content

नए मोटर वाहन कानून के लागू होने के बाद सड़क हादसों में कमी: गडकरी

नयी दिल्लीः नए मोटर वाहन कानून के लागू होने का फायदा पूरे देश में नजर आने

लगा है। केन्द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि देश में

नए मोटर वाहन कानून के पिछले वर्ष लागू किए जाने के बाद से सड़क दुर्घटनाओं में

काफी कमी आई है और इससे लोगों की जानें बचाने में काफी मदद मिली है। श्री गडकरी

ने गुरूवार को लोकसभा में लक्षद्वीप से राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सदस्य मोहम्मद

फैजल पीपी के सवाल के संबंध में सदन को अवगत कराया कि मोटर वाहन अधिनियम

2019 के अच्छे परिणाम सामने आए हैं और इसके लागू होने के बाद से विभिन्न राज्यों

में सड़क दुर्घटनाओं में काफी कमी आई है। उन्होंने कहा कि इसके लागू होने के बाद

गुजरात में 14, उत्तर प्रदेश में 13, मणिपुर में 4, जम्मू कश्मीर में 15, आंध्रप्रदेश में सात

, चंडीगढ़ में 15 और दिल्ली जैसे प्रमुख राज्यों में दो प्रतिशत सड़क हादसों में कमी आई

है। केवल केरल और आंध्रप्रदेश ही दो ऐसे राज्य हैं जहां सड़क हादसों और दुर्घटनाओं में

क्रमश: 4Þ 9 और 7Þ 2 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है। श्री फैजल ने बताया था कि

लक्षद्वीप में इस समय कोई यातायात विभाग नहीं है और न ही कोई कानूनी प्रवर्तन

एजेंसी है जिसकी वजह से वहां छोटे छोटे बच्चों में वाहन चलाने की प्रवृति अधिक बढ़

रही है और वे हादसों के शिकार भी हो रहे हैं, इस पर श्री गडकरी ने उन्हें आश्वासन दिया

कि केन्द्र शासित प्रदेश होने के नाते वहां केन्द्र के सभी कानून लागू होते हैं और वह इस

मामले की जानकारी गृह मंत्री को देंगे।

नए मोटर वाहन कानून के अलावा भी कई जानकारी दी

श्री गडकरी ने सदन को अवगत कराया कि उनके मंत्रालय ने देश भर के विभिन्न

राजमार्गों पर जानलेवा हादसों का कारण बनने वाले ‘‘ ब्लैक स्पॉट’ की पहचान करने के

लिए संबधित जिलों के सांसदों की अध्यक्षता में एक समिति बनाने का आदेश दिया है

और जिलाधिकारी इस समिति के सचिव होंगे । यह समिति जिला स्तर पर काम करेगी

और अपने क्षेत्रों में ऐसे जानलेवा स्पाट की पहचान करेगी। उन्होंने सभी सांसदों से

आग्रह किया कि वे इस समिति में सक्रिय तौर पर हिस्सा लें और केन्द्र सरकार की

योजना को क्रियान्वित करने में मदद करें। आम आदमी पार्टी के भगवंत मान ने पंजाब

में बढ़ते सड़क हादसों पर चिंता जताते हुए कहा कि पंजाब में विभिन्न स्थानों पर 138

ऐसे जानलेवा स्थान है और उनके खुद के चार मित्र आवारा पशुओं की चपेट में आकर

जान गंवा चुके हैं । उन्होंने मशहूर कामेडियन जसपाल सिंह भट्टी का जिक्र भी किया

जिनका निधन एक सड़क हादसें में हो गया था।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from देशMore posts in देश »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from हादसाMore posts in हादसा »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!