fbpx Press "Enter" to skip to content

नक्सलवाद पर आधारित फिल्म का निर्माण करेगी पुलिस




जगदलपुरः नक्सलवाद पर आधारित फिल्म का निर्माण कर पुलिस भी नक्सली प्रचार को जबाव देना चाहती है।

छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर इलाके में नक्सलियों के तर्ज पर अब पुलिस के जवान भी

क्रांतिकारी फिल्म का निर्माण कर रहें हैं, जिसका नाम है ‘नई सुबह का सूरज’

और इस फिल्म में पुलिस अधीक्षक का किरदार खुद अभिषेक पल्लव निभाएंगे।

दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि नक्सलियों की रणनीति को

विफल करने के लिए नक्सलवाद की सच्ची घटनाओं पर आधारित छोटी फिल्म बनायी जा रही है।

जिसका नाम है ‘नई सुबह का सूरज’। इस फिल्म की कहानी दंतेवाड़ा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सूरज सिंह परिहार ने लिखी है।

इस फिल्म में लगभग सौ जवान अपना किरदार निभायेगें जिसमें आत्म समर्पित नक्सली भी शामिल हैं।

इस फिल्म में पुलिस अधीक्षक का किरदार खुद अभिषेक पल्लव ही निभायेगें।

फिल्म का निर्माण दंतेवाड़ा से लगे कारली जंगल से प्रारंभ हो गया है।

इस फिल्म में नक्सलियों के बड़े नेता गणपति, हिड़मा, हुंगा तथा रमन्ना की भूमिका में

पुलिस के जवान अपनी भूमिका निभाएंगे।

नक्सलवाद को जवाब देने वाली फिल्म में कलाकार भी पुलिस वाले ही होंगे




इस फिल्म के प्रोडयूसर पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव निर्देशक व लेखक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सूरज सिंह परिहार तथा लेखक आरक्षिक केन्द्र के अधिकारी वैभव मिश्रा हैं।

एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि नक्सली अब तक प्रोपोगंडा कर ग्रामीणों और बच्चों का ब्रेनवाश करते आए हैं।

अब तक नक्सलवाद के बारे में बाहरी लोग ही लिखा करते थे या फिल्में बनाया करते थे,

जो यथास्थिति से काफी दूर हुआ करती थी।

अब बस्तर के लोग, बस्तर की धरती पर खुद इस फिल्म को बना रहे हैं, इससे ग्रामीण जुड़ेंगे।

नक्सल संगठन में खींचतान किस तरह की है, नक्सलवाद की हकीकत को बताने वाली ऐसी तमाम कहानियों का समावेश इस फिल्म में है।

फिल्म बनने के बाद इसे पेन ड्राइव के जरिए स्कूलों, आश्रमों, गांवों में बांटा जाएगा।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले झारखंड में भी पुलिस के द्वारा इसी किस्म की फिल्म का निर्माण किया गया था।

लेकिन इस फिल्म के बनने के पहले नाटक के तौर पर उसका काफी मंचन भी हुआ था।

जो लोकप्रिय साबित हुआ था।



Rashtriya Khabar


One Comment

Leave a Reply

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com